लोकसभा चुनाव में फेक न्यूज रोकने गूगल देगा पत्रकारों ट्रेनिंग….

भारत में आम चुनाव के दौरान फेक न्यूज पर रोक लगाने के लिए गूगल लगातार अपनी कोशिश कर रहा है। GOOGLE ने घोषणा की है कि आगामी 40 दिनों तक देश के कई शहरों में पत्रकारों को ऑनलाइन वेरिफिकेशन, फैक्ट चेकिंग, डिजिटल सेफ्टी, सिक्युरिटी, यूट्यूब और डेटा विजुअलाइजेशन की ट्रेनिंग देगा। जिसके लिए गूगल न्यूज इनीशिएटिव ने डेटालीड्स और इंटरन्यूज के साथ साझेदारी की है।

कब से शुरू होगा प्रोग्राम:

ये ट्रेनिंग प्रोग्राम 26 फरवरी से शुरू होकर 6 अप्रैल तक चलेगा। आपको बतादें गूगल देश के 30 शहरों में अंग्रेजी, हिन्दी, मलयालम, बांग्ला, कन्नड़, गुजराती, उड़िया, तमिल, तेलुगु और मराठी भाषा के पत्रकारों को ट्रेनिंग देगा। गूगल ने यह जानकारी एक प्रेस रिलीज जारी करके यह शेयर किया। इसके ट्रेनिंग के लिए किसी भी मीडिया संस्थान से जुड़े पत्रकारों के साथ-साथ फ्रीलांसिंग करने वाले लोग भी आवेदन कर सकते हैं। इसकी ट्रेनिंग की शुरुआत दिल्ली एनसीआर में होगी।

10,000 पत्रकारों को ट्रेनिंग देने का लक्ष्य:

ऑनलाइन वेरिफिकेशन और फैक्ट चेकिंग के लिए पिछले साल टेक कंपनी ने ‘गूगल न्यूज इनीशिएटिव इंडिया ट्रेनिंग नेटवर्क’ की शुरुआत की थी। इस प्रोग्राम के तहत पिछले 6 महीने में गूगल ने 7 भाषाओं में 40 शहरों के 5,260 पत्रकारों को ट्रेनिंग दी है। गूगल 2019 के दौरान 10,000 पत्रकारों को ट्रेनिंग देने की योजना बना रहा है।

Back to top button