टेक्नोलॉजी

गूगल का प्रोजेक्ट ”ALLO” हुआ फ्लॉप, मार्च 2019 के बाद हो जाएगा बंद

एलो ऐप वॉट्सऐप और फेसबुक को टक्कर देने के लिए उतारा गया था जो कि अब फ्लॉप साबित हुआ। यह ऐप गूगल के अन्तर्गत आता है। कंपनी ने अब इस ऐप को शटडाउन करने का निर्णए लिया है। इस मैसेंजर ऐप को कंपनी ने 2016 में लांच किया था।

इस बात की जानकारी गूगल ने खुद दी। गूगल ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि Allo मार्च 2019 तक चलेगा फिर बंद हो जाएगा गूगल ने कहा है कि उन्होंने ऐलो से काफी कुछ सीखा है खास तौर पर मशीन लर्निंग आधारित फीचर्स और गूगल असिस्टेंट को मैसेजिंग ऐप में ही इनबिल्ट करना।

कंपनी ने इस एप में निवेश करना इसी साल अप्रैल से बंद कर दिया था। इसके वर्कफोर्स को दूसरे में ट्रांसफर कर दिया गया। इस प्रोजेक्ट के रिसोर्स को कंपनी ने एंड्रॉयड मैसेज टीम में शिफ्ट कर दिया था। कंपनी ने बीच बीच में इसमें कुछ फीचर्स दिए थे, लेकिन फिर भी ये वॉट्सऐप और मैसेंजर से टक्कर लेने में फेल रहा।

वॉट्सऐप की खासियत इसका सिंपल होना है। लेकिन ऐलो थोड़ा ट्रिकी था इसके मुकाबले। कई सारे ऑप्शन, ज्यादा फीचर्स होना भी कभी मुश्किल हो सकता है। वॉट्सऐप की स्ट्रैटिजी रही है कि वो धीरे धीरे फीचर्स देता है। अगर आप याद करें तो शुरुआत में चैटिंग का ही ऑप्शन था।

Summary
Review Date
Reviewed Item
गूगल का प्रोजेक्ट ''ALLO'' हुआ फ्लॉप, मार्च 2019 के बाद हो जाएगा बंद
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags