उत्तर प्रदेशराज्य

यहां योगी के क्षेत्र ने PM मोदी के क्षेत्र को पछाड़ा

गोरखपुर: शौचालय निर्माण के मामले में सीएम बनने से पहले योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर ने बाजी मारी है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत खुले में शौच से मुक्ति अभियान के तहत हो रहे शौचालयों के निर्माण में प्रदेश में गोरखपुर सबसे आगे है।

जबकि दूसरे नंबर पर गाजीपुर है। वहीं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी तीसरे पायदान पर है। पंचायती राज विभाग के आंकड़ों के मुताबिक सूबे के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का संसदीय क्षेत्र रहा इलाहाबाद चौथे नंबर पर है।

गोरखपुर में अब तक 658 गांव खुले में शौच से मुक्ति (ओडीएफ) हो चुके हैं। अक्टूबर तक प्रशासन का लक्ष्य 1,000 गांवों को ओडीएफ घोषित करना है।

समय से इस मिशन को पूरा करने के लिए वर्तमान में गोरखपुर में हरदिन 1,500 शौचालयों का निर्माण हो रहा है।

गोरखपुर में इस अभियान के तहत कुल 4.72 लाख शौचालय बनवाने का लक्ष्य है। शौचालयों के निर्माण के लिए अब तक 94 करोड़ रुपये प्रशासन को मिल चुके हैं। अक्टूबर में प्रशासन का लक्ष्य 60 हजार शौचालयों के निर्माण का है।

दो किस्तों में मिलता है पैसा

शौचालय निर्माण के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लिए 12 हजार रुपये दो किस्तों में दिए जाते हैं। दोनों किस्तों में 6-6 हजार रुपये लाभार्थी को दिए जाते हैं। वहीं शहरी क्षेत्र में अब लाभार्थी को 20 हजार रुपये, 10-10 हजार रुपये दो किस्तों में शौचालय निर्माण के लिए दिए जाते हैं।

शौचालयों के निर्माण में जिलों का स्थान

10 अक्टूबर तक के आंकड़ों के अनुसार-

जिला कुल शौचालय निर्माण

गोरखपुर 98,161

गाजीपुर 63,212

वाराणसी 53,429

इलाहाबाद 41,994

आगरा 40,543

Summary
Review Date
Reviewed Item
PM मोदी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *