छत्तीसगढ़

गाँधी जयन्ती पर विचार गोष्ठी, श्रमदान एवं भजन

पुलिस अधीक्षक का गाँधी दर्शन पर व्याख्यान

महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती श्री साई बाबा आदर्श महाविद्यालय में धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया तथा स्वच्छता के लिए श्रमदान किया गया। इसी परिप्रेक्ष्य में गाँधी दर्शन पर पुलिस अधीक्षक सदानन्द कुमार का व्याख्यान भी आयोजित किया गया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के उपलक्ष्य में महाविद्यालय में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का प्रारंभ महाविद्यालय संचालन के सचिव अजय कुमार इंगोले के साथ प्राचार्य एवं सभी विभागाध्यक्ष ने महात्मा गाँधी एवं लाल बहादुर शास्त्री का पूजन कर किया। अपने विचार प्रकट करते हुए अजय कुमार इंगोले ने महात्मा गाँधी का संदर्भ देते हुए चेतना के स्तर की व्यापकता एवं विचारों की दृढ़ता पर जोर दिया। डाॅ. अलका पांडेय ने समानता, लिंग भेद एवं सर्वोदय पर गाँधी के विचारों का पुनरावलोकन किया। डाॅ. आर.एन. शर्मा ने गाँधी को कर्मयोद्धा निरूपित किया। डाॅ. सुमित कुमार डे ने गाँधी की सत्यनिष्ठा एवं ईमानदारी की चर्चा की। डाॅ. रितेश वर्मा ने गाँधी साहित्य की प्रासंगिकता पर व्याख्यान दिया। अरविन्द तिवारी ने अहिंसा के सिद्धान्त तथा शैलेष देवांगन ने सिद्धान्त एव व्यवहार की एकात्मता पर अपने विचार प्रस्तुत किए। छात्र रोहन राज, राधिका, योगेश निगम, दिव्यांशु ने भी गाँधी के संबंध में अपने विचार रखे। अंत में प्राचार्य डाॅ. राजेश श्रीवास्तव ने महात्मा गाँधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के जीवन प्रसंगों को उद्यृत करते हुए उनसे प्रेरणा लेने की बात कही।

इससे पूर्व महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के संदर्भ में जिले के पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार ने गाँधी दर्शन पर व्याख्यान देते हुए भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के कालानुक्रम पर महात्मा गाँधी की भूमिका की चर्चा करते हुए विभिन्न घटनाओं एवं दृष्टान्तो के माध्यम से गाँधी के चरित्र, व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला।

कार्यक्रम के शुभारंभ में महात्मा गाँधी के पूजन एवं दीप प्रज्ज्वलन के पश्चात महाविद्यालय शासी निकाय के अध्यक्ष विजय कुमार इंगोले, सचिव अजय कुमार इंगोले, प्राचार्य डाॅ. राजेश श्रीवास्तव, छात्र संघ प्रभारी आर. एन. शर्मा तथा रासेयो स्वयं सेवकों, द्वारा पुलिस अधीक्षक का स्वागत किया गया तत्पश्चात प्राचार्य ने स्वागत उद्बोधन प्रस्तुत किया। पुलिस अधीक्षक सदानंद कुमार ने गाँधी के प्रादुर्भाव से लेकर स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात तक की परिस्थितियों का ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के आधार पर सूक्ष्म विवेचना करते हुए इन कालक्रमों में गाँधी की भूमिका की विशद व्याख्या की तथा लयात्मक तारतम्यता के साथ संपूर्ण गाँधी दर्शन का विषय बोध कराया।

कार्यक्रम के अंत में सहायक प्राध्यापक देवेन्द्र दास सोनवानी एवं सोफिया खातून, आकांक्षा श्रीवास्तव, राधिका इत्यादि रासेयो स्वयं सेवकों द्वारा गाँधी जी का प्रिय भजन रघुपति राघव राजा राम तथा वैष्णव जन गाया गया। संचालन डाॅ. सुमित कुमार डे एवं राकेश कुमार सेन ने किया। कार्यक्रम में सभी शिक्षक कर्मचारी एवं सभी छात्र छात्राओं की उत्साहपूर्ण उपस्थिति रही।