सरकार हज यात्रियों को उच्चस्तरीय सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध : डॉ. प्रेमसाय सिंह

रायपुर।

स्कूल शिक्षा एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने आज छत्तीसगढ़ से इस वर्ष हज पर जाने वाले यात्रियों के चयन हेतु कुर्राह (लॉटरी) का उद्घाटन किया। इसका आयोजन छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी द्वारा रायपुर के सिविल लाईन स्थित न्यू-सर्किट हाउस में किया गया।

सेन्ट्रल हज कमेटी के द्वारा ऑनलाइन प्रक्रिया के जरिए प्रदेश के हज यात्रियों का चयन किया गया। प्रदेश से हज के लिए इस वर्ष 434 हज यात्रियों का दल रवाना होगा। मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने चयनित सभी हज यात्रियों को मुबारकबाद देते हुए प्रदेश की खुशहाली एवं तरक्की की दुआ करने की अपील की।

अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने कहा कि मुस्लिम समाज के हर व्यक्ति की दिली ख्वाहिश होती है कि वह जीवन में एक बार अपने प्रमुख तीर्थ स्थल हज की यात्रा करें। हज में व्यक्ति खुदा के सबसे करीब होता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हज कमेटी के माध्यम से हज यात्रियों को उच्चस्तरीय सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

राज्य हज कमेटी द्वारा दी जा रही सुविधाओं के फलस्वरूप प्रदेश से इस वर्ष 604 व्यक्तियों ने ऑनलाईन आवेदन प्रस्तुत किया है। राज्य में कुल आवेदनकर्ताओं में से इस वर्ष 50 प्रतिशत से अधिक व्यक्तियों को यात्रा का मौका मिलेगा। डॉ. सिंह ने कहा कि नया रायपुर में बनने वाले हज हाउस के कार्य को तीव्र गति दी जाएगी। रायपुर से ही हज के लिए उड़ान व्यवस्था करने सरकार द्वारा पहल की जाएगी।

छत्तीसगढ़ प्रदेश के हज यात्रियों को सुविधा उपलब्ध कराने में देश के अग्रिम राज्यों में शुमार है। छत्तीसगढ़ पहला राज्य है, जहां चयनित हाजियों का प्रशिक्षण मोबाइल एप्पलीकेशन के माध्यम से होता है। चयनित हज यात्रियों को निःशुल्क हज किट, दवा किट उपलब्ध कराती है।

हज यात्रियों के टीकाकरण का केन्द्रीयकृत कार्य स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से होता है। स्वास्थ्य दल में 8-10 डॉक्टर और 30-35 पैरामेडिकल स्टॉफ होता है।

छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष सैय्यद सैफुद््दीन ने भी सम्बोधित किया। हज कमेटी के सचिव श्री सादिज मेमन ने कुर्राह की प्रक्रिया की जानकारी देते हुए बताया कि हज 2019 के लिए राज्य को कुल 823 आवेदन प्राप्त हुए, इनमें 423 पुरूष और 400 महिला आवदेन है।

राज्य इस से इस वर्ष 219 हस्तलिखित और 604 ऑनलाईन आवेदन प्राप्त हुए। 2019 के लिए 30 आवेदक रिजर्व केटेगरी और चार महिला आवदेक बिना मेहरम केटेगरी के पात्र हुए है। केन्द्रीय हज कमेटी के नियमानुसार राज्य को प्राप्त कुल 434 हज सीट में से 30 रिजर्व केटेगरी और चार महिला बिना मेहरम केटेगरी के आवेदनों को घटाकर कुल 400 हज सीटों के लिए कुर्राह किया गया। शेष हज आवेदकों को कुर्राह के माध्यम से ही प्रतीक्षा सूची में रखा जाएगा।

इस अवसर पर कुर्राह कमेटी के सदस्य मौलाना मोहम्मद अली फारूकी, मोहतमीम मदरसा इस्लाहुल मुस्लेमीन कारी अश्फाक अंजुम, ईमाम जामा मस्जिद हलवाई लाईन कारी इम्तीयाज अहमद, ईमाम नूरे नबी मस्जिद मौलाना रिफत अली सहित अन्य सदस्यगण और बड़ी संख्या में हज यात्रा के लिए आवेदन करने वाले उपस्थित थेे।

1
Back to top button