पहली बार सकारात्मक मतदान के साथ सरकार की वापसी : नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली : ईवीएम पर विपक्ष के हमलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंत्रिमंडलीय सदस्यों के साथ बैठक की। इनमें राजग के सहयोगी दल के मंत्री भी शामिल थे। राजग की पूर्ण बहुमत के साथ वापसी की एक्जिट पोल की भविष्यवाणी के बीच अमित शाह ने चुनाव के दौरान मिले भारी जनसमर्थन का श्रेय प्रधानमंत्री को दिया। वहीं प्रधानमंत्री ने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों को बताया कि पद, प्रतिष्ठा और पावर सब जनता से ही आता है।

पार्टी मुख्यालय में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, खाद्य मंत्री रामविलास पासवान और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। प्रधानमंत्री ने बताया कि पिछले पांच वर्षो में सरकार ने जनता की मौलिक जरूरतों को पूरा करने की कोशिश की है। जरूरतमंदों को ध्यान में रखकर योजनाएं बनाई गई और लाभार्थियों तक उन्हें पहुंचाना सुनिश्चित किया गया। उन्होंने इसमें मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के योगदान की भी सराहना की। मोदी ने कहा कि जब आप जनता के लिए काम करते हैं, तो जनता बदले में आप पर भरोसा जताती है।

जनता की भलाई के लिए पिछले पांच वर्षो के काम का नतीजा ही है कि देश में पहली बार सकारात्मक मुद्दों पर चुनाव हो रहा है। प्रधानमंत्री ने बताया कि पिछले पांच वर्षो में तमाम उतार-चढ़ाव के बीच राजग कमोवेश एकजुट रहा और सभी सहयोगियों की भूमिका सकारात्मक रही। प्रधानमंत्री ने बताया कि 125 करोड़ जनसंख्या वाला भारत यदि मजबूत होता है तो इसका असर सिर्फ देश के भीतर ही नहीं होगा, बल्कि पूरी दुनिया पर दिखेगा।

वहीं अमित शाह ने बताया कि किस तरह मोदी सरकार की पांच साल की उपलब्धियों ने पार्टी के लिए जनता से जुड़ना आसान बना दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा इन उपलब्धियों के साथ जनता तक पहुंचने में सफल रही। पांच साल में देश की 50 करोड़ जनता को सीधे प्रभावित करने वाली योजनाएं बनाने और उन्हें अमली जामा पहनाने का श्रेय उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को दिया।

Back to top button