बेसहारा धन बाई के लिए सरकारी योजनाएं कोसों दूर

-धनेश्वर साहू

जैजैपुर।

सरकार द्वारा कई लाभकारी योजनाएं चलाई जा रही है, लेकिन आज भी बहुत से लोग अशिक्षा, गरीबी व लचारी के कारण इसका लाभ नहीं उठा पाते है। राज्य आरै जिले के अधिकारी सरकार की तमाम योजनाओं को गरीबों तक पहुंचाने के लिए प्रयासरत हैं।

फिर भी फिर भी लाचारी, गरीबी और अशिक्षा के कारण आज भी कई लोग इन योजनाओं से वंचित है और बेसहारा की जिंदगी जी रहे है। इसका जीता-जागता उदाहरण जांजगीर जिले के जैजैपुर जनपद के ग्राम अकलसरा की बेसहारा धन बाई यादव पति स्व.अमृत लाल वार्ड नं.9 की वृद्ध महिला है, जिसको देखने से किसी का भी आंखे भर आएंगी।

कहने को तो सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाएं जमीनी स्तर पर मिल रही है, पर धन बाई यादव के लिए ये सब योजनाएं कोसों दूर है। पहले तो पति ने ईश्वर को प्यारे हो गए, बुढ़ापे का सहारे के लिए भगवान ने एक पुत्र दिया पर वह भी बूढ़ी मां को छोड़ कर अपनी पत्नी के साथ बाहर में रहते है।

इतना ही नहीं पति के जिंदा रहते एक झोपड़ी भी बनाया था लगातार हो रही बारिश ने झोपड़ी को भी ध्वस्त कर दिया। जब हमारे रिपोर्टर धन बाई के घर पहुंचा तो अचंभित हो गए ना ही रहने का जगह न ही सोने के लिए घर है। अंदर कीचड़ ही कीचड़ और घर टूटा फूटा कोई नहीं बेसहारा को सहारा देने वाला यही है धन बाई यादव की कहानी।

new jindal advt tree advt
Back to top button