छत्तीसगढ़

फर्जी रिपोर्ट के लिए महिला आयोग अध्यक्ष के विरुद्ध कार्रवाई करे सरकार : जकांछ

रायपुर : मरवाही विधायक अमित जोगी के गोद लिए हुए तीन वर्षीय आदिवासी पुत्र शिवकुमार बैगा की फर्जी स्वास्थ रिपोर्ट बनाकर उसे कुपोषित बताये जाने और इस रिपोर्ट को आधार बनाकर झूठा राजनीतिक प्रचार करने की दोषी, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष के विरुद्ध चौबीस घंटे के अंदर सरकार कार्यवाही नहीं करती तो महिला जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) आयोग की अध्यक्ष के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराएगी। बुधवार को ये जानकारी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के राजू सोनी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके दी।

क्या है पूरा मामला:
दरअसल 3 जुलाई को महिला आयोग ने अपनी जांच में शिवकुमार को उम्र के हिसाब से 10 किलो से भी कम वजनी करार कर गंभीर कुपोषित बता दिया था । अपनी इसी मनगढ़ंत रिपोर्ट के आधार पर महिला आयोग की अध्यक्ष ने राजनीतिक कारणों से मरवाही विधायक अमित जोगी के विरुद्ध समाचार पत्रों में झूठा प्रचार कर उन्हें बदनाम किया। जबकि अगले ही दिन 4 जुलाई को शिवकुमार बैगा की जांच करने वाले गौरेला सामुदायिक स्वास्थ केंद्र के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ सतीश अर्गल एवं पेंड्रा के डॉ देवेन्द्र पैकरा दोनों ने ही शिवकुमार को साढ़े बारह किलो से ज्यादा वजनी पाया और उसकी पूरी जांच कर उसे उम्र अनुसार पूर्णत: स्वस्थ और सेहतमंद बताया (रिपोर्ट संलग्न) । महिला आयोग की फर्जी रिपोर्ट का पर्दाफाश करने, 18 जुलाई को जब मरवाही विधायक अमित जोगी, शिवकुमार बैगा को लेकर मुख्यमंत्री निवास गए तो वहां मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार जिला अस्पताल स्थित पोषण पुनर्वास केंद्र के डॉक्टर ने जांच उपरांत (रिपोर्ट संलग्न) शिवकुमार का वजन साढ़े बारह किलो नोट किया और उसे शत प्रतिशत सेहतमंद और हँसता खेलता बालक घोषित किया। सरकारी अस्पताल में हुई जांच और मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार हुई जांच सहित सभी जांचों में ये प्रमाणित हो गया कि केवल राजनितिक द्वेष और दुर्भावना के चलते राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने शिवकुमार की फर्जी रिपोर्ट बनाई थी । महिला जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने महिला आयोग की दोषी अध्यक्ष से लिखित में माफ़ी मांगने और तत्काल इस्तीफे देने की मांग की है । पार्टी ने स्पष्ट कहा है कि इस्तीफ़ा न देने की सूरत में महिला आयोग की अध्यक्ष पर घर में घुसपैठ, बैगा आदिवासी बच्चे को प्रताडऩा व फर्जी रिपोर्ट बनाने एवं उसके आधार पर झूठा सियासी प्रचार करने का मामला दर्ज करवाया जाएगा ।

Back to top button