लॉक डाउन के पूरी तरह हटने के बाद ही शराब दुकान पर विचार करेगी सरकार

रायपुर: छत्तीसगढ़ शासन ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से आमजन को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से राज्य की सभी देशी-विदेशी मदिरा दुकानें, छत्तीसगढ़ स्टेट बेवरेजेस कॉरपोरेशन के रायपुर, बिलासपुर स्थित गोदामों सहित सभी जिलों में स्थित देशी मदिरा के मद्य भण्डागारों को 7 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया था।

वहीँ केंद्र सरकार ने 14 अप्रैल तक लॉक डाउन की घोषणा की थी। जिसे देखते हुए छत्तीसगढ़ में 15 अप्रैल से पहले शराब दुकानों के खुलने की संभावना नहीं दिख रही है। लॉग डाउन के पूरी तरह हटने के बाद ही सरकार इस दिशा में विचार कर सकती है।

साथ ही प्रदेश के सभी रेस्टोरेंट- होटल बार और क्लब को भी 7 अप्रैल तक बंद रखने का आदेश जारी किया गया था। कोरोना संक्रमण के कारण सबसे पहले 31 मार्च तक शराब दुकान बंद रखने के आदेश जारी किए गए थे। जिसे बढ़ाकर 7 अप्रैल किया गया था।

लॉगडाउन वाली अभी की स्थिति में शासन एवं प्रशासन जिस तरह कड़ाई बरता हुआ है उससे इस बात की संभावना नजर नहीं आ रही है कि 8 अप्रैल से शराब दुकानों को खोलने का कोई फैसला आ भी पाएगा। इस संबंध में आबकारी मंत्री कवासी लखमा से वस्तुस्थिति जानने की कोशिश की गई लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

Tags
Back to top button