वेतन विसंगति दूर करने हेतु शासन का पहला कदम,छग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने किया स्वागत,पढ़िये क्या कहा प्रांताध्यक्ष मनिष मिश्रा ने

वेतन विसंगति दूर करने हेतु 4 सितंबर को कमिटी गठित होने वाले दिन, प्रमुख सचिव आलोक शुक्ला सर,  कमलप्रीत सर एवं शिक्षा विभाग की टीम ने सहायक शिक्षक फेडरेशन से वेतन विसंगति दूर करने हेतु एक फार्मूला का निर्माण किया था।

रायपुर : वेतन विसंगति दूर करने हेतु 4 सितंबर को कमिटी गठित होने वाले दिन, प्रमुख सचिव आलोक शुक्ला सर,  कमलप्रीत सर एवं शिक्षा विभाग की टीम ने सहायक शिक्षक फेडरेशन से वेतन विसंगति दूर करने हेतु एक फार्मूला का निर्माण किया था। जिसमें उन्होंने सहायक शिक्षकों को पदोन्नत करते हुए प्रधान पाठक के समस्त पदों की भर्ती एवं शिक्षक पद में पदोन्नति की बात कही थी।जिसमे लगभग 35000 सहायक शिक्षक का वेतन विसंगति पदोन्नति के माध्यम से दूर होना एवम जो बचे हुए शिक्षक, जो पदोन्नति से वंचित रह जाएंगे उन्हें वेतन विसंगति में सुधार करने का एक फार्मूला तैयार करने का ऐसा प्रस्ताव दिया था।

जिस पर सहायक शिक्षक फेडरेशन के समस्त डेलिगेशन टीम ने यह कहा था की, हमारे समस्त सहायक शिक्षकों को लाभ होना चाहिए। समस्त सहायक शिक्षकों के वेतन विसंगति में सुधार होना चाहिए। इस हेतु योजना बनाने का कार्य हमारे उच्च अधिकारियों के हाथ में है,यदि आप यदि प्रमोशन करते हैं तो, जितने लोगों का प्रमोशन होता है उनका पदोन्नति के माध्यम से वेतन विसंगति दूर होगा और बाकी बचे शिक्षकों का वेतन में सुधार करके वेतन बैंड बदल कर के 9300-4200 करते हुए वेतन विसंगति दूर की जाए।

कांग्रेस पार्षद सूरज बंछोर की हत्या का सनसनीखेज खुलासा,पुरानी रंजीश बनी मर्डर की वजह

इस पर दोनों पक्षों में सहमति बनी थी। वर्तमान में उन्होंने पदोन्नति का रास्ता साफ करके वेतन विसंगति दूर करने हेतु पहला कदम उठाया है। इसी तरह छग सहायक शिक्षक फेडरेशन को यह जानता है कि 6 दिसंबर से पूर्व, निर्धारित समय से पूर्व, अवश्य ही पदोन्नति से वंचित शिक्षकों के लिए भी,उनका वेतन विसंगति दूर करने के लिए भी एक बहुत ही अच्छा फार्मूला बनाया जाएगा।

मनीष मिश्रा सहित छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के सभी पदाधिकारी शिव मिश्रा सुखनंदन यादव,अजय गुप्ता, सी.डी. भट् सिराज बक्स बलराम यादव बसंत कौशिक, कौशल अवस्थी रंजीत बनर्जी अस्वनी कुर्रे,चंद्रप्रकाश तिवारी,हुलेश चन्द्राकर,उमा पांडे,विकास मानिकपुरी,रवि प्रकाश लोह, सिंह प्रेमलता शर्मा, छोटे लाल साहू, आदित्य गौरव साहू, राजकुमार यादव, खिलेश्वरी शांडिल्य, शेषनाथ पांडे, मिलेश्वर देशमुख, बसंत कुमार यादव, संजय प्रधान, मनोज अंबष्ट, शैलेश गुप्ता, बीपी मेश्राम, एलन साहू ,राजू लाल टंडन, यादवेंद्र गजेंद्र, दुर्गा वर्मा, राजकुमारी भगत,गायत्री साहू,शांति उके,जयंती उसेंडी,शकुंतला साहू, राजू यादव,

नोहर चंद्रा, राजेश प्रधान,बनमोती भोई, तरुण वैष्णव,सुमन प्रधान ,जलज थवाईत, संतराम साहू ,आशा कोरी, इंदु यादव, आशा पांडे , उत्तम बघेल, गोवर्धन शारके ,छवि पटेल, संजय प्रधान,अनीता दुबे,लक्ष्मी बघेल, बसंत कुमार यादव, योगेंद्र ठाकुर ,केसरी पैकरा, सत्यनारायण यादव,नीलिमा कन्नौजे, भूपेश पाणीग्रही, अजय साहू, प्रभा साहू,दीप्ति बिसेन, सरोज वर्मा,गरिमा शर्मा,चमेली ध्रुव संकीर्तन नंद, हेमेंद्र चंद्रहास, राजवीर किरार, संत कुमार साहू, विनीता साहू, जयंती उसेंडी, पूर्णिमा पांडे आदि सभी ने  रीता भगत इस फैसले का स्वागत किया है और यह संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा है कि हमारा विश्वास कमेटी के प्रति बढ़ा है।जल्द ही समस्त सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति कमेटी के माध्यम से अवश्य दूर होगी

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button