अपहरण, छेड़खानी के मामले में 10 माह से फरार चल रहे आरोपी को जीपीएम पुलिस ने किया गिरफ्तार

संवाददाता :- सुमित जालान

गौरेला पेंड्रा मरवाही :- जिले की पेंड्रा पुलिस ने युवती से छेड़छाड़ के मामले में 10 माह से फरार चल रहे आरोपी आशु जैतवार को गिरफ्तार किया है. थाना पेण्ड्रा को रात्रि में पेंड्रा के भर्रापारा के पास एक व्यक्ति के द्वारा एक लड़की को परेशान करते हुए पकड़े जाने की सूचना मिली पेण्ड्रा पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची । मौके पर पाया गया कि तीन व्यक्ति ऑटो से एक नाबालिक लड़की को लेकर गलत काम करने की नियत से सुनसान जगह ले कर गए थे जब लड़की चिल्लाने लगी तो आसपास के लोग उसकी आवाज सुनकर वहां पर पहुंचे तो दो व्यक्ति ऑटो से भाग गए एक युवक पकड़ाया जो कि गौरेला का बाबू उर्फ रशीद था। चूंकि पीड़िता मूक बधिर थी जो घटना को बता रही थी पर भाषा ज्ञान नही होने से प्रथम सूचना पत्र लेने में कठिनाई उत्पन्न हो रही थी ।

अंध मूक बधिर शाला के शिक्षक के आने पर पीड़िता का कथन कराया गया। तो घटना सामने आई उसमे दो व्यक्ति तिपहिया ऑटो में उसे बैठा कर कृष्णा मोटर के पीछे भर्रापारा गणेश यादव के घर के पीछे सुनसान जगह पर ले गए थे और एक अन्य अपने साथी को फोन करके बुलाए फिर उसके आने पर एक इंजेक्शन लगा कर उसका मोबाइल से फोटो खींचे, पीड़िता के चिल्लाने पर आसपास के लोग वहां पर आए तो दो व्यक्ति ऑटो सहित भाग गए एक व्यक्ति को पब्लिक के द्वारा पकड़ लिया गया। थाना पेण्ड्रा में अपराध क्रमांक 161/20 धारा 363, 354, 354(ख),376, 511, 506, 34 भा द वि एवं 8 पोक्सो एक्ट कायम किया गया जाकर आरोपी बाबू उर्फ मो रसीद पिता मोह. अली निवासी गौरेला 2.हेमंत कुमार साहू पिता सोनू साहू अमरपुर 3.आसिफ खान पिता वाजिद खान सेमरा को की शिनाख्तगी परेड करा कर गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। मामला वर्तमान में ट्रायल कोर्ट में विचाराधीन है।

थाना प्रभारी पेण्ड्रा प्रवीण द्विवेदी अपने टीम के साथ मामलों के आरोपियों की पतासाजी हेतु लगातार प्रयास कर रहे थे। मुखबिर सूचना पर जानकारी मिली कि प्रकरण का आरोपी रायपुर में अपनी पहचान छिपा कर रह रहा है। थाना पेण्ड्रा की टीम द्वारा जाल बिछा कर आरोपी को दबोच लिया गया। आरोपी आशु जैतवार उर्फ सोनू पिता उत्तम जैतवार निवासी नया बस स्टैंड के पास पेंड्रा को विधिसम्यक कार्यवाही उपरांत गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button