छत्तीसगढ़

ग्राम स्वराज अभियान में छह गाँवों के सभी पात्र हितग्राहियों को दिया जाएगा सात योजनाओं का लाभ

शत प्रतिशत पात्र हितग्राहियों को लाभ देने का रखा गया लक्ष्य

राजनांदगांव : 14 अप्रैल से आरंभ हो रहे केंद्र सरकार के ग्राम स्वराज अभियान में जिले के विभिन्न विकासखंडों के छह गाँवों में सभी पात्र हितग्राहियों को केंद्र शासन की 7 महत्वपूर्ण योजनाओं का लाभ देने का लक्ष्य रखा गया है। इन गाँवों में बिरेझर, ककरेल, घोरतालाब, विचारपुर, डामरी, डोकराभाठा शामिल हैं। इन गाँवों के सभी पात्र हितग्राहियों को उज्ज्वला, उजाला, जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, सौभाग्य योजना एवं मिशन इंद्रधनुष शामिल हैं। आज हुई समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्री भीम सिंह ने ग्राम स्वराज अभियान के क्रियान्वयन की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कार्यक्रम के नोडल अधिकारी सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को इस संबंध में केंद्र द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुरूप तैयारी करने निर्देशित किया।

जिला पंचायत सीईओ श्री चंदन कुमार ने बताया कि 14 अप्रैल को सामाजिक न्याय दिवस, 16 अप्रैल को उज्ज्वला दिवस, 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस, 28 अप्रैल को ग्राम स्वराज दिवस, 30 अप्रैल को आयुष्मान दिवस, 2 मई को किसान कल्याण दिवस का आयोजन होगा। सामाजिक न्याय दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री का संबोधन होगा और जिला स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन होगा। स्वच्छ भारत दिवस के अवसर पर श्रमदान तथा स्वच्छता जागरूकता के संबंध में गाँवों में रात्रि चौपाल का आयोजन होगा।

उज्ज्वला दिवस के अवसर पर उज्ज्वला की विस्तारित श्रेणियों के लिए केवायसी फार्म लिये जाएंगे। पंचायती राज दिवस के अवसर पर ग्राम सभा का आयोजन किया जाएगा। 28 अप्रैल को ग्राम स्वराज दिवस के अवसर पर हितग्राहियों को सौभाग्य योजना के अंतर्गत कनेक्शन दिए जाएंगे। आयुष्मान भारत दिवस के अवसर पर केंद्र शासन द्वारा लाई गई स्वास्थ्य बीमा योजना के संबंध में जानकारी दी जाएगी जिसके माध्यम से शासन द्वारा चयनित किए गए अस्पतालों में हितग्राहियों का पाँच लाख रुपए तक का इलाज हो सकेगा। किसान कल्याण दिवस के अवसर पर किसानों को आय दोगुनी करने के संबंध में जागरूकता तथा आजीविका दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

आर्मी की लिखित परीक्षा की कोचिंग होगी शुरू : सेना भर्ती में फिजिकल में उत्तीर्ण होने वाले प्रतिभागियों की लिखित परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग जल्द शुरू होगी। इस संबंध में कलेक्टर ने सभी सीईओ को निर्देशित किया।

प्रधानमंत्री देखेंगे राजनांदगांव जिले का प्रेजेंटेशन : नीति आयोग द्वारा चिन्हांकित जिलों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने अधिकारियों को बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी नीति आयोग द्वारा चिन्हांकित छत्तीसगढ़ के तीन जिलों का प्रेजेंटेशन देखेंगे। इसमें सुकमा और कांकेर के अतिरिक्त राजनांदगांव जिला भी शामिल है। कलेक्टर ने अधिकारियों को नीति आयोग द्वारा चिन्हांकित बिन्दुओं पर कड़ी मेहनत करने कहा ताकि जिले के सूचकांकों में निरंतर सुधार हो सके।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *