शतरंज प्रशिक्षण कार्यक्रम में बतौर प्रशिक्षक पधारे ग्रैंडमास्टर प्रवीण ठिपसे

सोनू सेन:

पिथौरा: शतरंज के सात बार के राष्ट्रीय चैंपियन रहे अर्जुन अवॉर्डी ग्रैंडमास्टर प्रवीण ठिपसे भिलाई में आयोजित शतरंज प्रशिक्षण कार्यक्रम में बतौर प्रशिक्षक पधारे थे।

प्रशिक्षण के समापन अवसर पर जिला शतरंज संघ महासमुन्द के सचिव एवं राष्ट्रीय मासिक खेल पत्रिका शतरंज सम्राट के छत्तीसगढ़ ब्यूरो हेमन्त खुटे ने उन्हें देश- प्रदेश की खेल गतिविधियों से अवगत कराते हुए खेल पत्रिका भेंट की।

ठिपसे ने भारत की पहली हिन्दी शतरंज पत्रिका की सराहना की। इस दरमियान जिला शतरंज संघ महासमुन्द के संयुक्त सचिव डॉ मृणाल चंद्रेसन एवं महासमुन्द के राष्ट्रीय शतरंज खिलाड़ी मनीष थदानी भी साथ मे थे।

Back to top button