धर्मापुर सहित 10 गाँवों के लिए बनेगी समूह नलजल योजना: मुख्यमंत्री

सौभाग्य योजना में अब ग्राम सुरगी के हर घर में पहुंची बिजली

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज राजनादगांव विकासखंड के सघन जनसम्पर्क भ्रमण के दौरान ग्राम धर्मापुर, बागतराई, भोथीपार खुर्द और सुरगी में ग्रामीणों से मुलाकात की और जन सभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने कई निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास भी किया। डॉ. सिंह ने कहा- ग्राम धर्मापुर और और आस-पास के 10 गाँवों में पेयजल योजना के लिए सर्वे किया जाएगा। पीएचई के अधिकारी शिवनाथ नदी से लिफ्ट कर इन गाँवों तक पानी पहुँचाने की योजना बनाएंगे। उन्होंने कहा कि पेयजल संकट के स्थायी निदान के लिए शासन द्वारा कार्य किया जा रहा है। धीरी-मोहारा योजना भी इस दिशा में बड़ा कार्य हुआ है जो 47 गाँवों के निवासियों को पेयजल के संकट से स्थायी निदान दिलाने बड़ा कार्य है।

उन्होंने कहा- विधायक आदर्श ग्राम सुरगी में सौर ऊर्जा आधारित लिफ्ट इरीगेशन की सुविधा ग्रामीणों को मिलेगी। सांसद आदर्श गांव भोथीपारखुर्द में 4.40 करोड़ रुपए की लागत से जलाशय का जीर्णाेद्धार होगा जिससे बड़े रकबे में सिंचाई संभव हो सकेगी। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने बजट में शामिल इन बड़ी घोषणाओं से भी इन गाँवों के ग्रामीणों को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि भोथीपारखुर्द में पचास लाख रुपए की लागत से मिनी स्टेडियम बनाया जाएगा। इसी प्रकार ग्राम पंचायत बागतराई में उन्होंने कहा कि आश्रित गांव गातापार में 40 लाख रुपए से ओवरहेड टैंक बनाया जाएगा। इसके साथ ही गातापार में सामुदायिक भवन की स्वीकृति भी उन्होंने दी। बागतराई में बहुउद्देश्यीय आजीविका केंद्र बनाया जाएगा जिसमें विभिन्न प्रकार के नये रोजगार के लिए युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। डॉ. सिंह ने ग्राम सुरगी में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत हर घर में बिजली पहुंच जाने पर खुशी जतायी।

उन्होंने कहा- मुनगा पावडर की माँग औषधि के रूप में तेजी से बढ़ी है। ऐसे में मुनगा पाउडर से रोजगार के बेहतर अवसर मिल रहे हैं। आजीविका केंद्र में लोगों को इस संबंध में प्रशिक्षण दिया जाएगा। सैनेटरी नैपकिन के संबंध में तेजी से जागरूकता बढ़ रही है और शासन भी इस दिशा में विशेष कार्य कर रहा है। जो स्वसहायता समूह सैनेटरी नैपकिन यूनिट लगाएंगे, उन्हें आजीविका के अच्छे अवसर उपलब्ध होंगे। इसके अलावा पुरुषों के लिए ईंट बनाने की ट्रेनिंग, महिलाओं के लिए सिलाई प्रशिक्षण आदि उपलब्ध कराया जाएगा। इसी तरह धर्मापुर में मुख्यमंत्री ने कहा कि आसपास के 10 गाँवों का समूह बनाकर पेयजल की स्थायी उपलब्धता के लिए कार्य योजना बनाई जाएगी। लोकसभा सांसद अभिषेक सिंह ने कहा कि बीते दिनों लगातार किए गए भ्रमण में ग्रामीणजनों ने गाँवों में विभिन्न सुविधाओं की माँग की थी। मुख्यमंत्री ने इन्हें बजट में शामिल किया।

इससे ग्रामीण क्षेत्रों में नई ऊर्जा का संचार हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक बड़ी पहल करते हुए बीपीएल परिवारों के लिए नई योजना लाई है जिससे पाँच लाख रुपए तक का इलाज हो पाएगा। बहुत सी बीमारियाँ जिनमें सर्जरी का बड़ा खर्च आता है, का इलाज अब आसानी से हो सकेगा। सुरगी में मुख्यमंत्री ने वृहŸााकार सेवा सहकारी समिति का लोकार्पण भी किया। यहाँ माइो एटीएम की सुविधा भी होगी। मुख्यमंत्री ने धर्मापुर में प्राथमिक शाला में बाउंड्रीवाल निर्माण हेतु 10 लाख रुपए की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शासन ने निर्णय लिया है कि आसपास के ग्रामीणजन जो शहरों में बाजार के लिए अपना सामान लेकर आते हैं। उन्हें पसरा शुल्क देना पड़ता है। सरकार ने यह फैसला लिया है कि यह पसरा शुल्क समाप्त कर दिया जाएगा। इससे बड़ी राहत ग्रामीणों को मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायत सचिवए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका, पंचायत सचिव जैसा स्थानीय अमला ग्रामीण क्षेत्रों में कठिन परिश्रम कर रहा है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति बेहतर हो रही है। इस बजट में इनका मानदेय बढ़ाया गया है।
इस अवसर पर राज्य उर्दू अकादमी के अध्यक्ष अकरम कुरैशी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष सचिन बघेल, राज्य खाद आयोग क सदस्य अशोक चौधरी, राज्य गृह निर्माण मंडल के सदस्य नरेश डाकलिया, राजगामी संपदा न्यास के पूर्व अध्यक्ष संतोष अग्रवाल, जनपद अध्यक्ष सरिता कन्नौजे, जिला पंचायत सदस्य मधु सुकृत साहू, पूर्व मंडी उपाध्यक्ष कोमल सिंह राजपूत आदि उपस्थित थे।

new jindal advt tree advt
Back to top button