जल अपव्यय को रोकने शासन के दिशा- निर्देश

जल आपूर्ति के समय पम्पों से पानी खींचने को रोकने हेतु विद्युत प्रवाह बंद रायपुर में विद्युत कटौती जैसी कोई स्थिति नहीं- शुक्ला

रायपुर: प्रदेशभर में बढ़ती गर्मी के दौर में जल संकट का सामना आमजनों को करना पड़ रहा हैं। नगर पालिक निगम, नगर पालिका, पंचायत एवं अन्य शासकीय योजनाओं के द्वारा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में समुचित जल आपूर्ति करने के भरपूर प्रयास किये जा रहे हैं।

ऐसे दौर में राज्य षासन एवं अन्य नगरीय निकाय प्रबंधन के समक्ष यह बात आई है कि अधिक पानी खींचने के लिए लोग अपने घरों के नलों में विद्युत चलित पम्प लगा कर अधिक पे्रषर से पानी खींच रहे हैं जिससे अंतिम छोर तक पर्याप्त पानी की आपूति नहीं हो पा रही है। इसे रोकने के लिए शासन-प्रशासन, नगरीय निकाय द्वारा जल आपूर्ति के समय संबंधित क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति को बंद रखने हेतु निर्देषित किया गया है।

पाॅवर कंपनी अध्यक्ष शैलेन्द्र शुक्ला ने इस संबंध में बताया कि प्रदेष में विद्युत कटौती जैसी कोई स्थिति नहीं है। जल आपूर्ति को संतुलित ढंग से बनाये रखने और सभी घरों तक समुचित पानी की उपलब्धता सुनिष्चित करने के लिए नगर निगम के द्वारा बताये गये इलाकों में सीमित समय के लिए बिजली सप्लाई जल आपूर्ति के समय बंद की जा रही हैं। जनहित में मिले निर्देषानुसार पाॅवर कंपनी द्वारा ऐसे क्षेत्रों में सुबह आधे घण्टे बिजली बंद की जा रही है जिसे अंनजाने में विद्युत कटौती का नाम दिया जा रहा है।

आगे पाॅवर कंपनीज अध्यक्ष शुक्ला ने कहा कि पानी सप्लाई के दौरान लोग नलों में विद्युतचलित पम्प लगा कर पानी न खींच सके और सभी को पूर्ण प्रेषर के साथ नल से पानी मिले, इसके अलावा जल का अपव्यय भी रूके, इसे दृष्टिगत रखते हुए सुबह जल प्रदाय के समय बिजली का बंद किया जाना आवष्यक है।

यही एकमात्र कारगर तरीका है जिसके माध्यम से विद्युत चलित पम्प को नियऩ्ित्रत किया जा सकता है। सबको आवष्यकतानुरूप पानी की उपलब्धता सुनिष्चित हो सके, इस हेतु पाॅवर कंपनी द्वारा बिजली आपूर्ति को नियंत्रित करने से उपभोक्ताओं को हो रही असुविधा के लिए कंपनी खेद व्यक्त करती है तथा ‘सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय‘ के हित में सहयोग करने की अपील करती है।

Back to top button