राष्ट्रीय

बीजेपी बोली, ‘मिशल गुजरात’ की जातिगत व्यूह रचना में यहां चूक गई कांग्रेस

बीजेपी बोली, ‘मिशल गुजरात’ की जातिगत व्यूह रचना में यहां चूक गई कांग्रेस

नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने जाति के गठजोड़ की रणनीति को बीजेपी ने फेल बताया है. बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस का यह कदम उसके लिए उल्टा पड़ने वाला है. विधानसभा चुनाव के प्रचार में शामिल बीजेपी नेताओं ने कहा कि कांग्रेस की रणनीति ओबीसी और पाटीदार को अपने साथ लाने की है, लेकिन उसकी यह कवायद विरोधाभासी है क्योंकि ये दोनों समुदाय हितों और महत्वाकांक्षाओं को लेकर एक दूसरे से स्पर्धा कर रहे हैं.

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को चेतावनी दी है कि वह पाटीदार समुदाय की आरक्षण की मांग पर तीन नवंबर तक अपनी स्थिति स्पष्ट करे या फिर नतीजों को भुगतने के लिए तैयार रहे. बीजेपी इस चेतावनी को कांग्रेस की रणनीति में विरोधाभास के स्पष्ट संकेत के रूप में देख रही है.

ओबीसी में अपनी पैठ मजबूत करने के मकसद से हाल ही में कांग्रेस ने ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर को शामिल किया.

कांग्रेस हार्दिक को अपने पाले में लाने की कोशिश कर रही है, लेकिन ठाकोर का यह रुख रहा है कि ओबीसी के कोटे से छेड़छाड़ नहीं जा सकती.

साल 1995 से गुजरात की सत्ता में मौजूद बीजेपी हिंदुत्व और विकास के ईद-गिर्द अपने चुनाव प्रचार को आगे बढ़ा रही है. उसका कहना है कि कांग्रेस पर उसे 10 फीसदी वोटों की बढ़त हासिल है

पाटीदार समुदाय को बीजेपी को लंबे समय से समर्थन मिलता आया है और पार्टी के नेताओं का मानना है कि इस बार भी अधिकतर पाटीदार बीजेपी का साथ देंगे.

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.