गुजरात चुनाव: अल्पेश ठाकुर ने थामा कांग्रेस का दामन

अहमदाबाद. गुजरात चुनाव में विभिन्न समुदायों से समर्थन मिलने की उम्मीद जताते हुए प्रदेश कांग्रेस ने पाटीदार आरक्षण आंदोलन चलाने वाले हार्दिक पटेल, ठाकुर समुदाय के नेता अल्पेश ठाकुर और दलित नेता जिग्नेश मेवानी को पार्टी से साथ हाथ मिलाने को आमंत्रित किया। इसके बाद शनिवार शाम अल्पेश ठाकुर राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और भरत सिंह सोलंकी के साथ राहुल गांधी से मिलने उनके दिल्ली स्थित आवास पहुंचे।

सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए शनिवार को कांग्रेस ने शरद पवार के नेतृत्व वाली राकांपा और राज्य से जदयू के एकमात्र विधायक छोटू भाई वसावा को साथ लाने के लिए चुनावपूर्व गठबंधन का संकेत दिया है। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राज्य कांग्रेस प्रमुख भरत सिंह सोलंकी ने भरोसा जताया कि इन नेताओं के समर्थन और आशीर्वाद से पार्टी कुल 182 सीटों में 125 से ज्यादा सीटें आसानी से जीत जाएगी।

उन्होंने कहा कि हालांकि भाजपा चुनाव जीतने के लिए पूरी कोशिश कर रही है, लेकिन गांधीनगर के लिए कांग्रेस के विजय मार्च को रोकने में उसे सफलता नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा जिस कारण के लिए हार्दिक पटेल लड़ रहे हैं हम उसका सम्मान और अनुमोदन करते हैं। मैं हार्दिक से चुनावों के दौरान कांग्रेस का समर्थन करने की अपील करता हूं। अगर वह भविष्य में चुनाव लड़ना चाहें तो हम उन्हें टिकट देने के लिए भी तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि इसी तरह हमने अल्पेश ठाकुर और जिग्नेश मेवानी को भी कांग्रेस के साथ हाथ मिलाने के लिए आमंत्रित किया है। मैंने छोटू वसावा को भी कांग्रेस का समर्थन करने के लिए न्यौता दिया है। उन्होंने राज्यसभा चुनावों में हमारी मदद की थी। उन्होंने कहा कि राकांपा ने राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस को धोखा दिया था, लेकिन वो गुजरात से भाजपा को उखाड़ फेंकना चाहते हैं तो पार्टी के दरवाजे अभी भी उनके लिए खुले हैं। वहीं गुजरात में पाटीदार आंदोलन का नेतृत्व करने वाले नेता हार्दिक पटेल ने संवैधानिक तौर पर मैं चुनाव नहीं लड़ सकता। मेरा मानना है कि भाजपा के खिलाफ एकजुट होना जरूरी है। यह चुनाव भाजपा-कांग्रेस का नहीं छह करोड़ गुजरातियों का है।

गुजरात में पाटीदार प्रतिशत

पाटीदार मतदाता – 20%
पाटीदारों में लेउवा – 60%
पाटीदारों में कड़वा – 40%
2012 में बीजेपी को मिले पाटीदार वोट – 80%
भाजपा के पाटीदार विधायक – 44%

तिकड़ी बदल सकती है भाजपा का खेल

गुजरात की राजनीति में अहम स्थान बना चुके पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी और ओबीसी नेता अल्पेश ठाकुर की तिकड़ी गुजरात चुनाव में भाजपा का खेल बदल सकती हैं। भाजपा ने इन्हें अपने पाले में डालने की पूरी कोशिश की थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की उम्र महज 24 साल है ऐसे में वे चुनाव के मैदान में नहीं उतर सकते हैं, लेकिन गुजरात मतदाताओं के एक बड़े हिस्से का हार्दिक को समर्थन है। इसका उदाहरण 2015 में पटेल आरक्षण की मांग के दौरान सामने आ चुका है।

advt
Back to top button