गुजरात ने इस्राइल से मांगी मीठा जल संयंत्र बनाने की तकनीकी मदद

येरुशलम : गुजरात ने 1600 किलोमीटर लंबे समुद्री तट पर खारे पानी को मीठा बनाने वाले 10 संयंत्र स्थापित करने में इस्राइल से बुधवार को तकनीकी मदद की मांग की।

राज्य की योजना 2050 तक पेयजल के मामले में आत्मनिर्भर बनने की है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के शाफदान स्थित डैन रीजन वेस्ट वाटर मैनेजमेंट प्लांट की यात्रा करने के बाद यह कदम उठाया गया है।

एक बयान में कहा गया , ‘तटीय इलाकों में खारे पानी को मीठा बनाने वाले 10 संयंत्र बनाए जाएंगे जिसके लिए इस्राइल से तकनीकी मदद की मांग की जाएगी।’

रूपाणी की यात्रा के दौरान गुजरात के प्रतिनिधिमंडल के समक्ष इस्राइली अधिकारियों एवं विशेषज्ञों ने ‘वेस्ट वाटर मैनेजमेंट ’ पर एक प्रस्तुति भी दी। रूपाणी ने कहा, ‘अब संसाधनों का इस तरह इस्तेमल करने की जरूरत है कि आने वाले वर्षों में गुजरात पेयजल के मामले में आत्मनिर्भर हो जाए।’

Back to top button