गुजरात: चनिया-चोली पहन पुलिस ने पकड़े शोहदे

अहमदाबाद: नवरात्रि की पहली रात में गरबा के दौरान महिलाओं के साथ छेड़खानी रोकने के लिए गुजरात पुलिस ने इस साल नायाब तरीका निकाला।

महिला पुलिसकर्मी चनिया चोली पहनकर गरबा में शामिल हुईं और छेड़खानी कर रहे 14 मनचलों को पकड़ लिया। गुरुवार को 22 वर्षीय जिगर ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उसे नवरात्रि की अपनी पहली रात जेल में गुजारनी पड़ेगी।

सीजी रोड पर आयोजित गरबा के दौरान जिगर (बदला हुआ नाम) ने चनिया चोली पहने एक युवती को देखकर सीटी बजा दी।

इसके बाद युवती ने अपने साथियों के साथ जिगर की कॉलर पकड़ ली और उसे अपना पुलिस आइडेंटिटी कार्ड दिखाया।

पुलिस को देख जिगर के होश उड़ गए और उसे जेल की हवा खानी पड़ी। जिगर अकेला नहीं था जिसे जेल जाना पड़ा, शहर में एंटी रोमियो स्क्वॉड ने सीजी रोड, एसजी रोड और रिवरफ्रंट इलाके से 13 अन्य मनचलों को छेड़खानी करते पकड़ा।

सहायक पुलिस आयुक्त (महिला पुलिस) पन्ना मोमाया ने बताया कि छेड़खानी करने वालों को पकड़ने के लिए वे नवरात्रि के एक सप्ताह पहले से तैयारी कर रहे थे।

उन्होंने कहा, ‘हमने हाल ही में पुलिस में भर्ती हुईं 20 महिला पुलिसकर्मियों को इसके लिए चुना। हमने उन्हें छेड़खानी करने वालों के पहचान की ट्रेनिंग दी।

उन्हें चनिया चोली पहनाकर गरबा के दौरान तीन अलग-अलग जगहों पर तैनात किया।’ पुलिस सूत्रों ने बताया कि स्क्वाड ने रिवरफ्रंट इलाके से पांच, एसजी रोड से छह और सीजी रोड से तीन मनचलों को पकड़ा।

सहायक पुलिस आयुक्त ने बताया कि मनचलों को पकड़ने के लिए नवरात्रि की अन्य रातों में गरबा के दौरान इस स्क्वॉड को तैनात किया जाएगा।

Back to top button