जेल से प्रवचन देना चाहता है गुरमीत राम रहीम, कोर्ट से मांगी अनुमति

याचिकाकर्ता ने अपने समर्थन में संविधान के अनुच्छेद 51A (d) और संयुक्त राष्ट्र के कैदियों के बारे में जारी नियमों का हवाला दिया है

जेल से प्रवचन देना चाहता है गुरमीत राम रहीम, कोर्ट से मांगी अनुमति

साध्वियों के साथ बलात्कार के मामले में 20 साल जेल की सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के समक्ष याचिका दाखिल रोहतक जेल से प्रवचन देने की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया है। यह याचिका मालवा इंसा फॉलोवर्स डेरा सच्चा सौदा असोसिएशन के अध्यक्ष देव राज गोयल की ओर से दायर की गई है। इस मामले पर सुनवाई 24 जनवरी को होगी।

याचिकाकर्ता ने हाई कोर्ट से अनुरोध किया है कि वह हरियाणा सरकार और राज्य कारागार अधिकारियों को गुरमीत राम रहीम का प्रवचन रिकार्ड करके या लाइव इंटरनेट पर प्रसारित कराने की व्यवस्था करने का निर्देश जारी करे। इसके अलावा सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के आश्रम में भक्तों को सप्ताहिक, 15 दिन या एक महीने पर प्रवचन देखने के लिए पर्याप्त व्यवस्था कराने का निर्देश दे।

याचिकाकर्ता ने अपने समर्थन में संविधान के अनुच्छेद 51A (d) और संयुक्त राष्ट्र के कैदियों के बारे में जारी नियमों का हवाला दिया है। इस बीच डेरा सच्चा सौदा के राजनीतिक धड़े ने अपने समर्थकों से कहा है कि वे हरियाणा के बीजेपी के सभी विधायकों और सांसदों से मिलें और उन्हें बताएं कि उनके सत्ता में आने की वजह डेरा का समर्थन था।

बता दें, अक्टूबर 2014 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने गुरमीत से मुलाकात की थी जिसके बाद उसने अपने समर्थकों को बीजेपी को वोट देने का निर्देश दिया था। एक टेप में डेरा के पदाधिकारी अपने समर्थकों से कह रहे हैं, ‘बीजेपी की लोकल कमिटी को, लोकल एमएलए या एमपी या फिर किसी और से खट्टर (हरियाणा के सीएम) को कहलवा दो कि या तो फैसला हमारे हक में करवा दो, वर्ना आप जानो। आपको हमने ही बनवाया है।’

advt
Back to top button