राष्ट्रीय

6,000 भारतीय कंपनियों के डेटा हैक, बिक्री के लिए हैकर्स ने डाले विज्ञापन

नई दिल्ली : डेटा ब्रीच के एक बड़े मामले में 6,000 भारतीय कंपनियों से संबंधित डेटा को हैकर्स ने हैक करके बेचने के लिए डाल दिया है। इस हैकिंग के बारे में सेक्राइट साइबर इंटेलिजेंस लैब्स ने अपने पार्टनर सेक्ट्री इन्फो सर्विसेज के साथ मिलकर पता लगाया है। इस कंपनी ने पाया कि भारत के 6,000 से ज्यादा ऑर्गेनाइजेशंस के डेटाबेस डार्कनेट पर बिक्री के लिए के लिए उपलब्ध हैं।

हैकर्स ने इन्फर्मेशन की बिक्री के लिए बकायदा विज्ञापन भी दिया है। लीक डेटा प्राइवेट कंपनियों के साथ-साथ सरकारी संस्थाओं के भी हैं। सेक्राइट इंटेलिजेस ने जानकारी मिलने के बाद भारत सरकार और एशिया पसिफिक नेटवर्क इन्फर्मेशन सेंटर से संपर्क किया और उन्हें इस डेटा लीक से आगाह करते हुए पासवर्ड बदलने और अन्य सुरक्षा उपाय अपनाने की सलाह दी। हैकर्स ने प्रभावित कंपनियो के डेटा उपलब्ध करवाने के लिए 15 बिट कॉइन्स की मांग की है। मांग पूरी नहीं करने पर हैकर्स ने इन संस्थाओं के नेटवर्क को बंद करने की धमकी दी है।

सेक्राइट साइबर इंटेलिजेस लैब साइबर सिक्यॉरिटी फर्म क्विक हील टेक्नॉलजीज की एक इकाई है। विज्ञापन देखने पर कंपनी की टीम ने एक खरीदार बनकर हैकर्स से संपर्क किया, जिसके बाद हैक किए गए ईमेल्स का सैंपल उन्हें हैकर्स की ओर से भेजा गया। इसी के बाद कंपनी ने भारत सरकार को अलर्ट किया।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *