बीजेपी की टिकट पर उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे हंसराज हंस

नाराज उदित राज ने पार्टी छोड़ने का लिया फैसला

नई दिल्ली: भाजपा दिल्ली की छह सीटों पर उम्मीदवार घोषित कर चुकी है, लेकिन अभी उत्तर पश्चिमी दिल्ली से उम्मीदवार घोषित नहीं किया गया था, मगर मशहूर पंजाबी सिंगर हंसराज हंस के नाम के बाद अब बीजेपी सातों सीटों पर उम्मीदवार उतार चुकी है और ऐसी स्थिति में अब उदय राज के लिए टिकट की संभावना पूरी तरह से खत्म हो चुकी है. हालांकि, उदित राज निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं.

हंसराज हंस भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे. इस फैसले से नाराज उदित राज ने पार्टी छोड़ने का फैसला ले लिया है. उन्होंने कहा, ‘बीजेपी ने टिकट नहीं दिया, अब मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया है.’

भारतीय जनता पार्टी में साल 2016 में शामिल हुए थे हंसराज हंस

गौरतलब है कि हंसराज हंस साल 2016 में ही भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे. बता दें कि उदित राज अभी इस सीट से मौजूदा सांसद हैं. यानी दिल्ली की इस सीट से हंस राज के चुनाव लड़ने का मतलब है कि बीजेपी से उदित राज का पत्ता कट चुका है, जिसे लेकर कुछ दिनों से उदित राज नाराज भी दिख रहे थे. बीजेपी ने भी बयान जारी कर कह दिया है कि हंसराज हंस ही इस सीट से उनके उम्मीदवार होंगे.

सिंगर हंसराज हंस बीजेपी से पहले कई और राजनीतिक दलों में रह चुके हैं. सिंगर हंस राज हंस ने अपने राजनीतिक दल की शुरुआत शिरोमणी अकाली दल से की थी. वह साल 2009 में जालंधर लोकसभा सीट से चुनाव भी लड़े थे, मगर उसमें उनकी हार हुई थी. फिर वह बाद में कांग्रेस में भी शामिल हुए थे. और अब साल 2016 के बाद वह बीजेपी में ही हैं.

दित राज ने पार्टी से इस्तीफा देने की दी धमकी

लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी द्वारा टिकट न मिलने पर नाराज सांसद उदित राज ने पार्टी से इस्तीफा देने की धमकी दी है. उदित राज ने बताया, ”कल केजरीवाल का कॉल आया था. आज मैंने कॉल किया था वो हंस रहे थे कि उन्होंने 4 महीने पहले मुझे चेतावनी दी थी कि मुझे टिकट नहीं मिलेगा.

मैंने उनसे पूछा कि उन्हें कैसै पता था? राहुल गांधी ने भी 2 बार पार्लियामेंट में कहा था कि आप गलत पार्टी में हैं. उसे छोड़ दीजिए.” उत्तर पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद उदित राज ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकांउट हैंडलर नाम से चौकीदार शब्द हटा लिया है.

इससे पहले ट्वीट में उन्होंने कहा कि, ‘मेरे टिकट का नाम देरी होने पर पूरे देश में मेरे दलित समर्थकों में रोष है और जब मेरी बात पार्टी नहीं सुन रही तो आम दलित कैसे इंसाफ पायेगा.’ जबकि तीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘अगर उन्हें लोकसभा चुनाव में उम्मीदार के रूप में नहीं उतारा गया तो वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे.’ इस ट्वीट को उदित राज ने पिन भी किया है.

दिल्ली की सात सीटों पर बीजेपी के उम्मीदवार:

डॉ. हर्षवर्धन

रमेश बिधूड़ी

मनोज तिवारी

प्रवेश वर्मा

मिनाक्षी लेखी

गौतम गंभीर

हंस राज हंस

Back to top button