छत्तीसगढ़

शिक्षा विभाग के द्वारा चलाया जा रहा ’हर कदम बेटी के संग’ अभियान

राष्ट्रीय बालिका शिक्षा अभियान हर कदम बेटी के संग

दन्तेवाड़ा, 29 अक्टूबर 2020 : वर्तमान में कोरोना संक्रमण के प्रभाव के कारण सभी शालाएं बंद है जिसके कारण बच्चों की पढ़ाई पूरी तरह से प्रभावित हुई है इस कोरोना संकटकाल में छत्तीसगढ़ शासन द्वारा सी जी स्कूल डॉट इन पोर्टल में पढ़ई तुंहर दुआर अभियान के माध्यम से सभी बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा उपलब्ध कराने की कोशिश की गई है परंतु दंतेवाड़ा जैसे क्षेत्र में नेटवर्क की समस्या के साथ-साथ पालकों के पास मोबाइल का ना होना बहुत बड़ी समस्या है

पढ़ई तुंहर दुआर

इन समस्याओं से जूझते हुए दंतेवाड़ा जिले के शिक्षक पढ़ई तुंहर दुआर के माध्यम से पारा मोहल्ले में क्लास लगा कर शिक्षा की भरपाई कर रहे हैं इन सभी विकल्पों को ध्यान में रखकर बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कर्मा एवं जिला मिशन समन्वयक एस एल शोरी ने सभी शिक्षकों और पालकों से अपील की है कि बच्चियों की पढ़ाई लगातार जारी रखने हेतु हमें इन्हें इन बालिकाओं को प्रोत्साहन देने के साथ ही साथ उन्हें सुविधा और साधन उपलब्ध कराना आवश्यक है।

हम सबको इनके जीवन के संपूर्ण शारीरिक और मानसिक विकास को आगे बढ़ाने हेतु सजग होना होगा इस प्रकार हम बालिकाओं की शिक्षा को मजबूत बना सकते हैं। इस आपदा की घड़ी को हमे अवसर में बदलना होगा और बालिका को निरन्तर शिक्षा से जोड़कर अपने समाज का विकास करना होगा।

बालिकाओं की पढ़ाई हमेशा जारी रहे इस उद्देश्य के साथ राष्ट्रीय बालिका शिक्षा अभियान हर कदम बेटी के संग चलाया जा रहा है शिक्षा विभाग और रूम टू रीड के सहयोग से दंतेवाड़ा जिला में प्रोजेक्ट विजयी कार्यक्रम चल रहा हैं जिसमे जीवन कौशल पर बालिकाओ के साथ सत्र लिए जाते हैं चुकी कोरोना काल के समय बालिकाओ के लिए नई नई जानकारी वीडियो, गपशप, पोस्टर, के माधियाम से पहुँचाई जा रही हैं। ताकि बालिकाओ को शिक्षा को लेकर प्रोत्साहित किया जा सके।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button