राष्ट्रीय

हार्दिक सहित 3 पाटीदार नेताओं को 2 घंटे में ही मिल गई जमानत

हार्दिक सहित तीन पाटीदार नेताओं को दोषी करार देते हुए 2 साज कैद की सजा सुनाई थी।

अहमदाबाद। 2015 के मेहसाणा दंगा मामले में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल, सरदार पटेल ग्रुप के लालजी पटेल ओर ऐके पटेल को कोर्ट ने 2 साल की सजा सुनाई। लेकिन, तीनों को दो घंटे के अंदर ही जमानत मिली गई।

विसनगर में बीजेपी विधायक के दफ्तर में तोड़फोड़ मामले में कोर्ट ने बुधवार को हार्दिक सहित तीन पाटीदार नेताओं को दोषी करार देते हुए 2 साज कैद की सजा सुनाई थी।

कोर्ट ने तीनों को 50 -50 हजार का जुर्माना और 10-10 हजार मुआवजे के तौर पर देने का आदेश भी दिया। कोर्ट ने 17 में से 14 आरोपियों को बरी कर दिया।

कोर्ट का फैसला आते ही हार्दिक के वकील ने कोर्ट में जमानत की अर्जी दायर की। जिसे कोर्ट ने मंजूर करते हुए तीनों को जमानत दे दी।

बता दें कि गुजरात में 2015 में आरक्षण की मांग को लेकर हार्दिक पटेल की अगुवाई में पाटीदार आंदोलन हुआ था। आंदोलनकारियों ने जगह-जगह आगजनी और तोड़फोड़ की थी।

पाटीदार प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी विधायक के दफ्तर में भी तोड़फोड़ की थी। इस पर पुलिस ने 17 लोगों पर केस दर्ज किया था। पुलिस ने हार्दिक पटेल और

लालजी पटेल को मुख्य आरोपी माना था। इसके बाद कोर्ट ने दोनों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था, हालांकि 5000 के मुचलके पर हार्दिक को जमानत मिल गई थी।

07 Jun 2020, 9:58 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

247,195 Total
6,950 Deaths
119,293 Recovered

Tags
Back to top button