बिज़नेस

HDFC का प्रोफिट 57.5 फीसदी घटकर 4,600 करोड़ रुपये हुआ

तिमाही के दौरान शुद्ध ब्याज मार्जिन 3.3 प्रतिशत रहा।

नई दिल्ली। आवास ऋण कंपनी एचडीएफसी लि. का सितंबर में समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही का एकीकृत शुद्ध लाभ 57.5 प्रतिशत घटकर 4,600 करोड़ रुपये रह गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 10,389 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।

एचडीएफसी ने बयान में कहा कि तिमाही के दौरान उसकी एकीकृत कुल आय बढ़कर 34,090.45 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 32,850.89 करोड़ रुपये रही थी। कंपनी ने कहा, ”30 सितंबर, 2019 को समाप्त तिमाही में उसे अपनी अनुषंगी गृह फाइनेंस लि. का नियंत्रण छोडऩे पर 8,000 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।”

एकल आधार पर तिमाही के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ 28 प्रतिशत घटकर 2,870.12 करोड़ रुपये रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 3,961.53 करोड़ रुपये रहा था। एकल आधार पर कंपनी की कुल आय घटकर 11,732.70 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 13,494.12 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही के दौरान एचडीएफसी की शुद्ध ब्याज आय 21 प्रतिशत बढ़कर 3,647 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 3,021 करोड़ रुपये रही थी।

तिमाही के दौरान शुद्ध ब्याज मार्जिन 3.3 प्रतिशत रहा। कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी सकल गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) 1.81 प्रतिशत या 8,511 करोड़ रुपये रहीं। एचडीएफसी ने अगस्त, 2020 में पात्र संस्थागत नियोजन के जरिये 10,000 करोड़ रुपये जुटाए थे। इसके अलावा कंपनी ने वॉरंट जारी कर भी 307 करोड़ रुपये जुटाए थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button