एचडीएफसी ने बैंक के संस्थापक के उत्तराधिकारी के लिए किया तीन लोगों का चयन

बैंक की बोर्ड मीटिंग में लिया गया इस बात का फैसला

नई दिल्ली: भारत के सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक एचडीएफसी के प्रबंध निदेशक आदित्य पुरी अक्टूबर 2020 में रिटायर होंगे. उन्होंने सितंबर 1994 में “वर्ल्ड क्लास इंडियन बैंक” बनाने की दृष्टि से यह पद संभाला. उनके उत्तराधिकारी की खोज बैंक वैश्विक स्तर पर कर रहा है.

9 अप्रैल को आरबीआई ने शशिधर जगदीशन को एडिशनल डायरेक्टर और भावेश जवेरी को एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के तौर पर नियुक्ति के लिए दिए गए प्रस्ताव पर रोक लगा दी थी. केंद्रीय बैंक ने कहा था कि नए एमडी के पद संभालने के बाद ही उनकी समीक्षा करें फिर हमारे पास भेजे.

बैंक ने स्टॉक एक्सचेंज को दी गई सूचना में कहा है कि हमें रिजर्व बैंक से सूचना प्राप्त हुई है जिसमें कहा गया है कि बैंक इन दोनों का प्रस्ताव नए एमडी और सीईओ के आने के बाद सबमिट करे. बैंक आरबीआई के इन नियमकों का पालन करेगा. आदित्य पुरी का कार्यकाल इसी साल के अंत में खत्म हो रहा है.

एचडीएफसी बैंक का वित्तीय वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही (Q4) का एकीकृत नेट प्रॉफिट 15.4 प्रतिशत बढ़कर 7,280.22 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक ने 6,300.81 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था.

पीटीआई की खबर के मुताबिक, शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बैंक प्राइवेट सेक्टर के अग्रणी एचडीएफसी बैंक ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी एकीकृत कुल आय बढ़कर 38,287.17 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 33,260.48 करोड़ रुपये थी.

Tags
Back to top button