बड़ी खबरराजनीतिराष्ट्रीय

उसने कन्हैया से अधिक खतरनाक शब्द बोले हैं-गृह मंत्री

नई दिल्ली : देश विरोधी भाषण देने वाले शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है. छत्तीसगढ़ की राजधानी  रायपुर में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हमने शरजील इमाम के भड़काऊ वीडियो को देखा और उसका भड़काऊ भाषण सुना.

शहजील इमाम ने कन्हैया कुमार की तुलना में अधिक खतरनाक शब्द बोले हैं. आज दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है और उसे दिल्ली लाया जा रहा है. वह (शरजील इमाम) अब जेल में ही बंद रहेगा.

सेंट्रल जोनल काउंसिल (CZC) की बैठक में शामिल होने के लिए अमित शाह मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में थे. इस बैठक में सुरक्षा और इन्फ्रास्ट्रक्चर समेत विभिन्न मुद्दों पर राज्यों और केंद्र के बीच विचारों का आदान-प्रदान हुआ. इस दौरान उन्होंने भाजपा के कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया.

कार्यकर्ता सम्मेलन में संबोधन के दौरान अमित शाह ने पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार की योजनाओं की खूब तारीफ की. साथ ही उन्होंने सीएए-एनआरसी के मुद्दे पर विपक्ष पर निशाना साधा. अमित शाह ने राजद्रोह के आरोप में बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार जेएनयू छात्र नेता शरजील इमाम का भी जिक्र किया.

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि शरजील इमाम का बयान देखिए, वीडियो देखिए, देख रहे हैं न आप. कन्हैया कुमार से भी ज्यादा खतरनाक बोले हैं. चिकन नेक को काट दो, भारत से असम कट जाएगा. अरे सात पुश्तें लग जाएंगी भैया, असम ऐसे नहीं कटेगा. आज दिल्ली पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया है.

उन्हें आज जेल की हवा खाने दिल्ली लाया जा रहा है. उन्होंने आगे कहा कि नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के जरिए लाखों करोड़ों पीड़ित लोगों को नागरिकता देकर उनको सम्मान बरकरार रखा. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर कांग्रेस राजनीति कर रही है.

दिल्ली पुलिस और बिहार पुलिस की ज्वाइंट ऑपरेशन में शरजील को गिरफ्तार किया गया है. इसको लेकर दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को पुलिस हेडक्वार्टर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. डीसीपी राजेश देव की टीम ने सोशल मीडिया पर 13 दिसंबर को जामिया और 16 जनवरी को अलीगढ़ वाला वीडियो आने के बाद केस दर्ज किया गया था.

25 को फुलवाड़ी सरीफ के एरिया में देखा गया, तब से रेड चल रही थी. शरजील इमाम ने 13 दिसंबर को जामिया और 16 जनवरी को अलीगढ़ में भड़काऊ भाषण दिया था.

शहजील इमाम को मजिस्ट्रेट के सामने पेश करके रिमांड पर लिया गया है. इसके बाद दिल्ली लाकर कोर्ट में पेश किया जाएगा. दंगा भड़काने के जो केस दर्ज हैं, उनमें भी आरोपी बन सकता है. आरोपी जेएनयू का छात्र है औऱ वह वहां पीएचडी कर रहा है. मुंबई से कंप्यूटर साइंस में इंजीनयरिंग भी की है.

दिल्ली पुलिस ने कहा कि 2 वीडियो शेयर किया है, जो 13 दिसम्बर को पहला वीडियो जामिया का है. दूसरा 16 जनवरी का है. हमने 25 को एफआईआर किया. उन्होंने कहा कि जो कंटेंट थे, हमने बिहार को भेजा.

25 दिसंबर को वहां एक रैली में देखा गया था. 25, 26 , 27 को रेड हुई. इसका भाई वहां मिला. आज उसके गांव से पकड़ा. उसको रिमांड पर लिया गया है. अब दिल्ली यहां लाएंगे. पुलिस के पास सरेंडर नहीं किया है. एक एफआईआर हमने दर्ज की है 124 a, जो 3 मुकदमें और हैं. जो भड़काऊ भाषण देता है उसके खिलाफ हम जांच कर रहे हैं.

कोई भेष बदलकर रहने की जानकारी नही है. दिल्ली में 15 और 17 दिसंबर को हुए दंगा फसाद के मामले में भी जेएनयू स्टूडेंट सरजील इमाम को आरोपी बनाया जा सकता है.

Tags
Back to top button