राजनीति

आज से बदलेगा बीजेपी का मुख्यालय: बायो टॉयलेट, सोलर पैनल और क्या है खास, जानिए

पीएम मोदी और अमित शाह ने पिछले साल अगस्त में नये मुख्यालय की आधारशिला रखी थी और मुम्बई की एक प्रमुख आर्किटैक्ट कंपनी ने उसका डिजायन तैयार किया है। पार्टी के नये मुख्यालय में आधुनिक संचार सुविधाओं से लैस तीन भवन हैं ताकि पार्टी पदाधिकारी समय पर ही राज्यों एवं स्थानीय स्तरों पर अपने समकक्षों के साथ पार्टी कामकाज पर समन्वय कायम कर सकें।

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का मुख्यालय आज से बदल जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत शीर्ष पार्टी नेताओं की उपस्थिति में नवीनतम संचार प्रौद्योगिकियों से लैस बहुमंजिले नए बीजेपी मुख्यालय का उद्घाटन करेंगे।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

देश के 18 राज्यों में शासन कर रही इस पार्टी का नया कार्यालय दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर स्थित है। अभी तक पार्टी के मुख्यालय का पता 11, अशोक रोड था। बीजेपी का नया मुख्यालय को आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करते हुए निर्मित किया गया है।

पीएम मोदी और अमित शाह ने पिछले साल अगस्त में नये मुख्यालय की आधारशिला रखी थी और मुम्बई की एक प्रमुख आर्किटैक्ट कंपनी ने उसका डिजायन तैयार किया है।

पार्टी के नये मुख्यालय में आधुनिक संचार सुविधाओं से लैस तीन भवन हैं ताकि पार्टी पदाधिकारी समय पर ही राज्यों एवं स्थानीय स्तरों पर अपने समकक्षों के साथ पार्टी कामकाज पर समन्वय कायम कर सकें। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भाजपा ने अगले हफ्ते से ही अपने वर्तमान कार्यालय से नये कार्यालय में चले जाने की योजना बना ली है।

<strong>क्या है खासियत?</strong>

बीजेपी का नया मुख्यालय 2 एकड़ की जमीन पर निर्मित किया गया है। इसमें 400 लोगों की क्षमता वाला कॉन्फ्रेंस रूम, ऑफिल, सेमीनार रूम और स्क्रीनिंग रूम बनाया गया है। इसके अलावा बिल्डिंग में सोलर पैनल और बायो टॉयलेट भी बनाए गए हैं। साथ ही अंडरग्राउंड पार्किंग की व्यवस्था की गई है। पूरी बिल्डिंग कमल की थीम पर बनी है।

परिसर में कमल की थीम वाला एक तालाब भी बनाया गया है। नए मुख्यालय के परिसर में लाल रंग की तीन बिल्डिंग बनाई गई हैं। पार्टी के अधिकारियों, सचिवों और कार्यकर्ताओं के लिए कमरे बनाए गए हैं, ताकि सब आपस में समन्वय बनाकर अच्छे से काम कर सकें। साथ ही एक स्टूडियो भी बनाया गया है ताकि नेता वहीं से टीवी डिबेट में हिस्सा ले सकें।

पर्यावरण का ध्यान रखते हुए इस मुख्यालय का निर्माण किया गया है। परिसर के सभी 70 कमरों में वाई-फाई की व्यवस्था की गई है। तीनों बिल्डिंग में कॉन्फ्रेंस हॉल, रिसर्च रूम, डिजिटल लाइब्रेरी बनाई गई है। रेन वॉटर हारवेस्टिंग की भी व्यवस्था है।

उच्चतम न्यायालय द्वारा विभिन्न दलों को अपना कार्यालय लुटियन जोन से अन्यत्र ले जाने के निर्देश के बाद बीजेपी ऐसा कदम उठाने वाली पहली बड़ी राष्ट्रीय पार्टी बन जाएगी।

बीजेपी के मुख्यालय अन्यत्र ले जाने से अन्य दलों पर भी ऐसा ही करने का दबाव पड़ सकता है क्योंकि उनमें से करीब करीब सभी दल दशकों से लुटियन जोन के बंगलों में अपना कार्यालय चला रहे हैं। भाजपा का कार्यालय अशोक रोड पर था, जबकि कांग्रेस का मुख्यालय अकबर रोड पर है । ये दोनों परिसर सरकारी निवासों के पूल का हिस्सा हैं।

अमित शाह ने 2014 में पार्टी अध्यक्ष का पदभार संभाला था तब से वह सभी राज्यों एवं जिलों में पार्टी के अपने स्वामित्व वाले कार्यालयों के लिए जुटे हुए हैं और इस दिशा में तेजी से काम चल रहा है। कल उद्घाटन समारोह में लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे पूर्व पार्टी अध्यक्ष भी मौजूद रह सकते हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
आज से बदलेगा बीजेपी का मुख्यालय: बायो टॉयलेट, सोलर पैनल और क्या है खास, जानिए
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.