स्वास्थ्य मंत्री ने डेंगू को महामारी मानने से किया इनकार, कहा – हालात अब नियंत्रण में

रायपुर :

छत्तीसगढ़ में डेंगू से अब तक 20 मरीजों की मौत के बाद प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर ने पहली बार अपनी प्रतिकिया दी। मंत्री चंद्राकर ने डेंगू को महामारी मानने से इनकार करते हुए कहा कि हालात अब नियंत्रण में है।

मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि डेंगू की बीमारी से जनता को भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से डेंगू से निपटने और रोकथाम के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

साथ ही विभाग डेंगू को लेकर लोगों को जागरूक भी कर रही है। बतादें प्रदेशभर में डेंगू से मरीजों के मौतों के बाद सरकार ने स्वीकारा कि प्रदेशभर में डेंगू फैल चुका है।

उन्होंने कहा कि इसके समुचित इलाज के लिए जो भी आवश्यक दवाइयां और उपकरण विभाग की ओर से नि:शुल्क उपलब्ध करवाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि वे स्वयं इस बीमारी पर नजर बनाए हुए हैं। मंत्री चंद्राकर ने बताया कि अस्पतालों में कोआर्डिनेटर बनाए गए हैं जो मरीजों का इलाज कराने में सहयोग कर रहे हैं। साथ ही डेंगू की बीमारी के रोकथाम और उसके इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जगह-जगह कैंप भी चलाए जा रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने डेंगू की बीमारी से पीडि़त मरीजों के बेहतर इलाज के लिए अस्पतालों को सख्त निर्देश दिए। उन्होंने निजी अस्पतालों को भी डेंगू पीडि़त मरीजों के इलाज में किसी भी प्रकार लापरवाही न बरतने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि यदि मरीजों के इलाज में निजी अस्पतालों द्वारा किसी भी प्रकार कोताही बरती जाएगी तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने लोगों से डेंगू जैसी बीमारी से बचने के लिए कुछ सावधानियां भी बरतने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि अपने आसपास सफाई रखें और कूलर व टायर सहित अन्य जगहों पर पानी इकट्ठा न होने दें। इन उपायों से डेंगू के मच्छर पनप नहीं पाएंगे और इस बीमारी से बचा जा सकेगा।

Tags
Back to top button