स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- कोरोना की दूसरी डोज में अलग वैक्सीन भी लग जाए तो चिंता की बात नहीं

रोजाना 4 लाख पार कर चुका आंकड़ा अब 2 लाख के आसपास है. दिल्ली, यूपी, महाराष्ट्र, हरियाणा समेत कई राज्यों में कोरोना के मामलों में काफी कमी दर्ज की जा रही है.

India Corona Update: देश के ज्यादातर राज्यों में लगे लॉकडाउन (Lockdown) जैसी पाबंदियों की वजह से कोरोना के मामलों में लगातार कमी आ रही है. रोजाना 4 लाख पार कर चुका आंकड़ा अब 2 लाख के आसपास है.

दिल्ली, यूपी, महाराष्ट्र, हरियाणा समेत कई राज्यों में कोरोना के मामलों में काफी कमी दर्ज की जा रही है. दिल्ली में तो एक समय 35 फीसदी को पार कर चुका पॉजिटिविटी रेट अब 2 फीसदी के नीचे आ गया है. इन सबके बीच कोरोना संकट को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में कोरोना से ठीक होने की दर बढ़ी है और रिकवरी रेट बढ़कर 90 फीसदी हो गया है. 23 राज्यों में केस घटे हैं. इस दौरान सरकार की तरफ से कहा गया कि अगर कोविड-टीके की दूसरी खुराक में अलग टीका दिया जाता है तो उसके उल्लेखनीय दुष्प्रभाव होने की आशंका नहीं है, लेकिन अधिक सतर्क रहने की जरूरत है.

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर में कुछ लोगों को गलती से दो अलग-अलग वैक्सीन लग जाने को लेकर नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने कहा कि ने कहा कि हमारा प्रोटोकॉल स्पष्ट है कि दिए गए दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि प्रोटोकॉल के हिसाब से सजग रहना है कि ऐसा न हो. पहले जो टीका लगे उसी का दूसरा टीका लगे, लेकिन फिर भी अगर ऐसा हो गया है तो इतना कोई महत्वपूर्ण मामला नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि ऐसी भी बातचीत चल रही है कि बदल के वैक्सीन लगे तो इम्यूनिटी ज्यादा होती है. जब सामने आएगा तब बताएंगे. उस परिवार के लिए चिंता की बात नहीं है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button