स्वस्थ्य कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल 29 से

भिलाई: शनिवार को छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष ओपी शर्मा की अध्यक्षता में स्वास्थ्य कर्मचारी संघ की महासमिति बैठक में अनिश्चितकालीन आंदोलन की समीक्षा की गई।

बैठक प्रांतीय कार्यालय रायपुर में आयोजित किया गया। प्रदेश महामंत्री और प्रदेश प्रवक्ता सैय्यद असलम ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ का तीन चरणों के आंदोलन में दो चरण में प्रथम चरण में 18 और 19 दिसंबर को काली पट्टी बांध कर विरोध जताया है। वहीं दूसरे चरण में 10 जनवरी को एक दिवसीय सामूहिक अवकाश स्वास्थ्य कर्मचारी ने पूरे प्रदेश में लिया अब 29 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर स्वास्थ्य कर्मचारी चले जाएंगे।

कौन-कौन सी राखी गई मांगें:

प्रदेश के स्वास्थ्य कर्मचारियों अपनी वेतन विसंगति दूर करने, केंद्रीय वेतन मान प्रदान करने, सभी संवर्ग की पदोन्नति करने व चार स्तर पदोन्नत वेतनमान दिया जाने की मांग विगत कई वर्षों से कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के प्रदेश महामंत्री और प्रदेश प्रवक्ता सैय्यद असलम ने कहा कि महासमिति बैठक में प्रांताध्यक्ष ओपी शर्मा और सभी प्रांतीय पदाधिकारियों, जिला अध्यक्ष व ब्लाक अध्यक्षों की उपस्थिति में शासन की उदासीनता और मांगों के पूर्ण नहीं होने पर 29 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया गया है।

प्रांताध्यक्ष ओपी शर्मा ने मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर, मुख्य सचिव, सचिव स्वास्थ्य से अनिश्चितकालीन आंदोलन के पूर्व कर्मचारियों की मांग पूरी कराने की अपील की है । इस समीक्षा बैठक में दुर्ग से प्रदेश महामंत्री सैय्यद असलम, जिला अध्यक्ष राकेश तिवारी, संभागीय अध्यक्ष अजय नायक, सुपरवाइजर प्रकोष्ठ के संयोजक बी एल वर्मा, दीपक गायकवाड़, शत्रुघ्न मांझी, मुकेश शर्मा, खिलावन चंद्राकर, अरुण सिंह, पी डी मार्कण्डेय सहित ब्लाक अध्यक्ष और पदाधिकारियों मौजूद थे। 

advt
Back to top button