दिल दहला देने वाला हादसा: दो साल की बच्ची के सामने पिता ने लगाई फांसी

मध्य प्रदेश के विदिशा जिले से एक दिल दहला देने वाला हादसा सामने आया है। यहां एक पिता ने अपनी 2 साल की बच्ची के सामने रविवार देर रात फांसी लगा ली। पूरा मामला कोतवाली थाना अंतर्गत बक्सर क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक मृतक की पहचान 38 वर्षीय प्रदीप अहिरवार के रूप में हुई है। व्यक्ति 12 घंटे से ज्यादा समय से फांसी पर लटका रहा और इतने ही समय में उसकी 2 साल की मासूम बेटी रोनक उसी घर में अकेली रोती-बिलखती रही। रविवार सुबह जब मृतक के भाई घर पहुंचे और दरवाजा नहीं खुला इधर रौनक की आवाज लगातार रोने की आती रही, तब खिड़की से भाई ने झांक कर देखा तो उनका भाई फांसी के फंदे पर झूल रहा था। इस हृदय विदारक मंजर को देख परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई।

मृतक प्रदीप के भाई ने फिर इस घटना की सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस टीम की मौजूदगी में मोहल्ले वालों के साथ मिलकर दरवाजा तोड़ा गया और मासूम बच्ची को बाहर निकाल मृतक के शरीर को फंदे से उतारा गया। फांसी और 2 साल की मासूम बच्ची का रात भर अकेले घर में होने की खबर सुनकर पूरा मोहल्ला सख्ते में है।

मृतक के चाचा ने बताया कि मई महीने में प्रदीप की पत्नी किरण की कोरोना के कारण मौत हो गई थी। तभी से प्रदीप अकेला पड़ गया। वह मासूम बच्ची के साथ वह घर में अकेला रहता था। खेती किसानी का काम करने वाले प्रदीप ने मासूम बच्ची के पालन और पत्नी की जुदाई से परेशान होकर इतना बड़ा कदम उठाया। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की बारीकी से जांच कर रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button