देश के इस राज्य में भारी बारिश, छह जिलों के लिये ‘ऑरेंज अलर्ट’…

तिरुवनंतपुरम. केरल के कई हिस्सों में 12 नवंबर की रात से लगातार बारिश हो रही है, जिससे निचले इलाकों में जलभराव हो गया है और ऊंचे इलाकों में मामूली भूस्खलन हुआ है। मौसम विभाग ने शनिवार को छह जिलों में बहुत भारी बारिश का अनुमान जताते हुए ‘आॅरेंज अलर्ट’ जारी किया है।

तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पथनमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम और इडुक्की जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान जताया गया है। एर्नाकुलम, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, कन्नूर, वायनाड और कासरगोड जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक बयान में कहा गया है कि 16 नवंबर तक केरल में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बिजली चमकने की भी संभावना है। तिरुवनंतपुरम जिले में व्यापक विनाश की सूचना मिली है, जहां कल रात से लगातार भारी बारिश हो रही है। जिसके बाद जिला अधिकारियों ने लोगों से सतर्कता बरतने की अपील की है।

तिरुवनंतपुरम-नगरकोविल मार्ग पर रेल की पटरी पर मिट्टी गिर गई और पास के उपनगर नेय्यत्तिनकारा में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक पुल का हिस्सा भारी बारिश में बह गया। विंिझजम के तटीय गांव में दुकानों में बारिश का पानी घुस गया। जिले के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों विशेषकर विथुरा, पोनमुडी, नेदुमंगडु, पालोड आदि में लगातार बारिश हो रही है।

इस बीच, जिले के अधिकारियों ने कहा कि अरुविक्कारा और पेप्पारा बांधों के शटर सुबह उठा दिए गए।’ रेड अलर्ट’ 24 घंटों में 20 सेमी से अधिक भारी से अत्यधिक भारी बारिश का संकेत देता है, जबकि ‘आॅरेंज अलर्ट’ 6 सेमी से 20 सेमी तक बहुत भारी बारिश को दर्शाता है। ‘येलो अलर्ट’ का मतलब 6 से 11 सेंटीमीटर के बीच भारी बारिश है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button