देश के इन हिस्सों में भारी बारिश के चेतावनी -जानिए कैसे है हालात

भारत में अगर मानसून कि स्थिति देखें तो दक्षिण भारत के कुछ-एक हिस्सों को छोड़ दें तो देश के अधिकांश हिस्सों में कमजोर बनी हुई है.

भारत में अगर मानसून कि स्थिति देखें तो दक्षिण भारत के कुछ-एक हिस्सों को छोड़ दें तो देश के अधिकांश हिस्सों में कमजोर बनी हुई है. हालांकि, मौसम विभाग ने देश के विभिन्न इलाकों में इस सप्ताह भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

साथ ही यह भी पूर्वनुमान लगाया गया है कि 24 जून से मानसून फिर से सक्रिय हो सकता है. बताया जा रहा है कि 24 जून से पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ और भागों तथा ओड़िशा में मानसून प्रभावी हो जाएगा.

मौसम विभाग द्वारा जारी इस चेतावनी के अनुसार इस सप्ताह अलग-अलग इलाकों तेज बारिश भी आ सकती है. इनमें बिहार, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक और केरल आदि के कुछ इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. गौतलब है कि कि इस महीने की शुरुआत से ही देश के कई हिस्सों में आंधी-पानी के साथ-साथ बारिश का सितम जारी है. हालांकि, कुछ इलाकों में बारिश न आने की वजह से प्रचंड गर्मी पड़ रही है और लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं. यूपी में आंधी-तूफान से सबसे अधिक मौत के आंकडे दर्ज किये गये हैं. मौसम विभाग की मानें तो देश के अलग-अलग इलाकों में आने वाले दिनों में भी मौसम का मिजाज ऐसा ही बना रहेगा.

23 जून का मौसम :

मौसम विभाग ने असम, मेघालय, कोंकण और गोवा में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है. साथ ही हिमालयी क्षेत्र, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अंडमान-निकोबार, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, कर्नाटक के तटीय क्षेत्र और केरल में भी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

24 जून का मौसम:

कोंकण और गोवा में भारी बारिश की चेतावनी है. वहीं, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, कर्नाटक के तटीय क्षेत्र और अंडमान-निकोबार में भी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

25 जून का मौसम:
मौसम विभाग ने कोंकण और गोवा में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. वहीं, बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, कर्नाटक के तटीय क्षेत्र और केरल में भी बारिश की संभावना है.>

new jindal advt tree advt
Back to top button