क्राइमछत्तीसगढ़

हैलो मैं बैंक ऑफ बड़ौदा का मैनेजर बात कर रहा हूँ आपका ATM नम्बर बताए,बस फिर हो गए डॉक्टर के खाते से 87 हजार पार

साइबर 20-20 ऑपरेशन अभियान

ब्यूरो चीफ : विपुल म

बिलासपुर : साइबर फ्रॉड के खिलाफ न्यायधानी बिलासपुर की पुलिस टीम “साइबर 20-20 ऑपरेशन अभियान” चला रही है,इसमे पुलिस के अधिकारी कर्मचारी अलग अलग टीम में बंटकर आरोपियों को गिरफ्तार करने में लगे है,ऐसे ही धोखाधड़ी के एक आरोपी को पुलिस ने झारंखड में गिरफ्तार किया है,जिसके पास से एटीएम,बैंक खाते,मोबाइल बरामद हुए है…

अज्ञात नम्बर से फोन आया फोन

मामले में मिली जानकारी के मुताबिक 15 सितंबर को नर्मदा नगर निवासी डॉक्टर दीना सिंह ने सिविल लाइन थाने पहुँच शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके मोबाइल पर अज्ञात नम्बर से फोन आया वही फोन करने वाले ने खुद बैंक ऑफ बड़ौदा के हेड ऑफिस का मैनेजर बताया और वेरिफिकेशन के नाम पर उनसे एटीएम एवं ओटीपी नम्बर पूछा,

वही जिसे बताने के बाद प्रार्थिया के खाते से 87 हजार 996 रुपये एटीएम एवम अन्य माध्यमों से इनके खाते से ट्रांसफर कर लिया गया,इस पूरे मामले में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने टीम का गठन किया,

झारखंड राज्य में ऑपरेशन चलाकर

गठित टीम द्वारा झारखंड राज्य में ऑपरेशन चलाकर रेकी करने लगी,इस मामले में पुलिस ने आरोपी सीबू कुमार मंडल ग्राम कुरुवा करमाटांड जिला जामतारा झारखंड निवासी को गिरफ्तार किया,पूछताछ के दौरान आरोपी ने घटना को अंजाम देना स्वीकार किया,इस पूरे पूरे मामले में आरोपी के पास से 2 कीपैड मोबाइल,एक एंड्रॉइड मोबाइल जप्त किया गया है,वही पूछताछ में आरोपी द्वारा बताया गया कि ठगी की रकम को वह शराब खोरी,घूमने फिरने और फिजूल खर्ची में खर्च कर देता है,बहरहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसे सलाखों के पीछे पंहुचा दिया है

उक्त संपूर्णण कार्यवाही मेंं साइबर सेल प्रभारी कलीम खान, उप निरीक्षक प्रभाकर तिवारी, उप निरीक्षक मनोज नायक, उप निरीक्षक मोहन भारद्वाज, उप निरीक्षक धर्मेंद्र वैष्णव, सउनि शैलेन्द्र सिंह, प्र.आर., शोभित, आर. दीपक उपाध्याय, आर. मुकेश, तरूण केशरवानी, गोविंद शर्मा, आशीष राठौर, दीपक यादव, एस.एल. वर्मा, अश्वनी पटेल एवं झारखंड पुलिस के विशेष सहयोग रहा…

मालूम हो कि बिलासपुर पुलिस के द्वारा कुछ माह पूर्व ही साईबर अपराध के जानकारी के अभाव में एवं विभिन्न सोशल साईटस एवं ईवालेट दुरूपयोग से होने वाले अपराधो पर नियंत्रण हेतु साईबर जागरूकता अभियान ’’साईबर मितान’’ चलाया था बिलासपुर पुलिस सभी से अपील करती है कि फोन पर आये किसी भी काॅल पर अपने ए.टी.एम. एवं बैंक संबंधित डिटेल शेयर न करे। अपना ओ.टी.पी. किसी से शेयर न करे। कोई भी लिंक/क्यू आर कोड आने पर प्रतिक्रिया न दे। कोई भी अवांछित एप डाउन लोड न करे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button