इनाम में मिली राशि से जरूरतमंदों की मदद

अजय शर्मा :

बिलासपुर : बिलासपुर के स्टेशन मास्टर यार्ड मास्टर व डीटीआई ने रविवार को नई शुरुआत की। उन्होंने जिला अस्पताल जाकर 100 भर्ती मरीजों को फल वितरण किया। इनाम में मिली राशि में बचत कर इस कार्य पर खर्च किया गया। आगे भी इस तरह के परोपकारी कार्यों को जारी रखने का संकल्प लिया गया है।

रेलवे अपने कर्मचारियों को समय-समय पर बेहतर कार्य के लिए पुरस्कृत करती है। जीएम, डीआरएम, सीओएम, डीओएम जैसे अवॉर्ड से नवाजे जाने के बाद उन्हें पुरस्कार दिया जाता है।

पुरस्कार में मिली राशि अब तक फिजूल खर्च हो जाती थी। इसे देखते हुए कर्मचारियों ने इसका उपयोग किसी नेक कार्य में करने का निर्णय लिया। साथ ही 25 प्रतिशत राशि को जमा करने की सहमति प्रदान की।

इस पहल का नतीजा यह हुआ कि उनके में फंड अच्छी खासी रकम जमा हो गई। इस रकम को समय-समय फल वितरण के साथ वृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्गों व अनाथ बच्चों पर खर्च करेंगे।

इसकी शुरुआत हो चुकी है। सभी सुबह यूनिफार्म में स्टेशन में एकत्र हुए। इसके बाद सुबह 11 बजे के करीब फल लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। अपने इस कार्यक्रम की जानकारी वह पहले से अस्पताल प्रबंधन को दे चुके थे। वहां से अनुमति भी मिल चुकी थी।

अस्पताल पहुंचने के बाद मरीजों को फल बांटे गए और उनके जल्द स्वस्थ्य होने की कामना की। इस मौके पर मुख्य स्टेशन प्रबंधक बीके बिस्वासए डीटीआई डी. दास, सीएमआई यूके सरकार स्टेशन प्रबंधक एमपी राव, सीताराम गुप्ता, एनके पांडेय, टी. नित्यानंद, बीके ढाली, सतीश कुमार समेत अन्य उपस्थित थे।

Back to top button