करवाचौथ पर यहां महिलाओं ने पतियों से कराया अनोखा वादा

करवाचौथ का व्रत भारतीय महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए रहती हैं. बुंदेलखंड में महिलाओं ने अपनी पतियों की लंबी आयु के लिए केवल करवाचौथ का व्रत ही नहीं रखा बल्कि अपने पतियों से एक ऐसा वादा भी ले लिया जिससे उनके पतियों की जिंदगी पर कोई खतरा ना पड़े.

पत्नियों ने अपने पतियों को अनमोल उपहार भी दिया.
यहां महिलाओं ने अपने पतियों से दुपहिया वाहन चलाते वक्त हेलमेट पहनने का संकल्प (वादा) लिया. करवा चौथ के दिन महिलाओं ने आजीवन सौभाग्यवती रहने की कामना की और आसमान में चांद दिखने पर व्रत तोड़ा. जगह-जगह समूहों में महिलाओं ने करवा चौथ मनाया, आलम यह रहा कि हर बड़ी इमारत की ऊपरी मंजिल पर पति-पत्नी जोड़ों में दिखे, वहीं देर रात तक आरती उतारने और छलनी से चांद व पति का चेहरा देखने का दौर चलता रहा.

सामाजिक कार्यकर्ता वैशाली पुंषी बताती हैं , “इस बार के करवा चौथ पर हम सभी महिलाओं ने अपने पतियों से सिर्फ यही मांगा है कि वे जब भी दुपहिया वाहन चलाएं तो हेलमेट जरूर लगाएं. इसके लिए उन्हें बतौर उपहार हेलमेट भी दिया क्योंकि वाहन चलाते समय सुरक्षा जरूरी है. तभी तो कहते हैं कि जान है तो जहान है.”

छतरपुर में महिलाओं ने घर और मंदिरों में पूरे दिन उपवास रहकर आराधना की और अपने पति की दीर्घ आयु के साथ अपने आजीवन सौभाग्यवती बने रहने की कामना की. रात को चंद्रमा के दर्शन के बाद ही व्रत तोड़ा और दोनों के सुखमय जीवन की कामना की.

1
Back to top button