यहाँ पेट्रोल और डीजल पर एक रुपये प्रति लीटर की दर से सड़क विकास उपकर

यह सालाना लगभग 500 करोड़ रुपये होगा

कोच्ची: आंध्र प्रदेश में सड़कों के विकास के लिए समर्पित धन आवंटित करने की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए, सरकार ने सार्वजनिक विकास में पेट्रोल और हाई स्‍पीड डीजल पर मौजूदा शुल्क के अलावा सड़क विकास उपकर लगाने का फैसला किया।

अब पेट्रोल और हाई स्‍पीड डीजल पर एक रुपये प्रति लीटर की दर से सड़क विकास उपकर लगाया जायेगा। यह सालाना लगभग 500 करोड़ रुपये होगा। राज्यपाल बिस्वभूषण हरिचंदन द्वारा दिए इस अध्यादेश को मंजूरी दे दी गई है।

विशेष मुख्य सचिव (राजस्व) रजत भार्गव ने कहा कि उपकर की राशि लगभग 500 करोड़ रुपये प्रति वर्ष होगी। उन्होंने कहा कि सेस की राशि आंध्र प्रदेश सड़क विकास निगम को सड़क बुनियादी ढांचे के विकास में विशेष उपयोग के लिए ट्रांसफर किया जाएगा। दो महीने में यह दूसरी बार है कि वाई एस जगन मोहन रेड्डी सरकार ने ऑटोमोबाइल ईंधन पर कर बढ़ाया है।

सरकार ने 20 जुलाई को पेट्रोल और डीजल पर कर ढांचे में बदलाव किया था, जिससे इसकी कीमत में क्रमशः 1.24 रुपये और 0.93 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई। सरकार को इससे प्रति वर्ष लगभग 600 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व मिला।

नए उपकर का उपयोग पूरी तरह से सड़क के कार्यों को करने के लिए किया जाएगा, जिसमें एपीआरडीसी के माध्यम से आवश्यक मरम्मत शामिल है। एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि कुल मिलाकर, हम शहरी स्थानीय निकायों को कम से कम 100 करोड़ रुपये देने की योजना बना रहे हैं।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button