छत्तीसगढ़

विद्यासागर कंपनी के मजदूरों के पक्ष में हाईकोर्ट का फैसला

छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में हुई विजय सभा

राजनांदगांव। विद्यासागर साल्वेंट कंपनी के मजदूर छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में जिला कलेक्टर कार्यालय के समक्ष फ्लाई ओवर के नीचे सुबह 11 बजे से वहां पर सभा हुई। सभा की शुरूआत में शहीद शंकर गुहा नियोगी के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर किया गया।

वक्ताओं ने अपने संबोधन कहा कि, विद्या सागर साल्वेंट अंजोरा में 200 से अधिक श्रमिक कार्यरत् थे। कंपनी द्वारा 2006 में शिव शंकर साल्वेंट कंपनी को विक्रय किया गया,जिसके बाद कंपनी द्वारा श्रमिकों को काम पर नहीं लिया गया।

इसलिए श्रमिक सिकम मण्डावी सहित 92 श्रमिकों ने श्रम न्यायालय, औद्योगिक न्यायालय तथा उच्च न्यायालय बिलासपुर मे प्रकरण पेश किए थे।

हाईकोर्ट ने 22 जुलाई को आदेश पारित किया। अक्टूबर 2011 से श्रमिकों को 50 प्रतिशत पिछले वेतन के साथ पुनः स्थापित किया जाए। हाईकोर्ट द्वारा पारित इस फैसले के बाद श्रमिकों में खुशियां है।

सभा को छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष का. भीमराव बागड़े, उपाध्यक्ष एजी कुरैशी, एक्टू के राष्ट्रीय सचिव ब्रिजेन्द्र तिवारी, किसान नेता सुदेश टिकम, कपड़ा मजदूर संघ से प्रेमनारायण वर्मा, भिलाई से राम गोपाल गोयल

लखनलाल साहू, महेन्द्र जांगड़े, बसंत साहू, पुनित राम यादव, द्वारका प्रसाद लहरे, मोतीलाल, लक्ष्मीनारायण, सिकम मण्डावी आदि वक्ताओं ने संबोधित किया, सभा का संचालन तुलसी देवदास एवं पुनाराम साहू ने किया।

02 Jun 2020, 8:47 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

207,183 Total
5,829 Deaths
100,285 Recovered

Tags
Back to top button