फुटबॉलर आलोक यादव के सुसाइड मामले में दो कांस्टेबलों पर एफआईआर करने हाईकोर्ट का आदेश

पुलिस पर था खिलाड़ी को ब्लैकमेल करने का आरोप

बिलासपुर/बलौदाबाजार। बलौदाबाजार के बहुचर्चित जूनियर नेशनल फुटबॉल खिलाड़ी एवं 11वीं के छात्र आलोक यादव की आत्महत्या के मामले में बिलासपुर हाईकोर्ट ने बलौदाबाजार के दो कास्टेबल ताराचंद रातड़े, तमन साहू के खिलाफ एफआईआर के आदेश दिए हैं। दोनों कांस्टेबल पर नेशनल फुटबॉल प्लेयर आलोक यादव को ब्लैकमेल करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए गए थे।

hccg
hccg

क्या है मामला : दोनों आरक्षक झूठे केस में फंसा देने की दबाव बना कर राष्ट्रीय फुटबाल खिलाड़ी आलोक से 27 हजार रुपए वसूल रहे थे।आरक्षकों के दबाव से आलोक इस कदर परेशान हो गया था कि 24 सितंबर आलोक यादव ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। महीनों कार्यवाही न होने पर अलोक के पिता ने हाईकोर्ट की शरण ली थी। हाईकोर्ट ने आलोक के पिता की याचिका पर सुनवाई करते हुए एफआईआर करने के निर्देश दिए हैं।

1
Back to top button