राष्ट्रीय

दिल्‍ली में सभी गाड़ियों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्‍लेट अनिवार्य

दिल्ली में कुल 1.06 करोड़ पंजीकृत वाहन

नई दिल्ली :

अगर आप दिल्ली के रहवासी हैं तो ये खबर आप के लिए ही है क्योंकि दिल्ली सरकार के अमल करते हुए दिल्‍ली में अाज से सभी गाड़ियों के लिए हाई सिक्‍यॉरिटी नंबर प्‍लेट को अनिवार्य करने का फैसला कर लिया है।

दिल्‍ली के रजिस्‍ट्रेशन वाली जिन कारों पर हाई सिक्‍यॉरिटी नंबर प्‍लेट नहीं मिलेगी, उन कार के मालिकों पर 500 रुपये का जुर्माना लग सकता है और उन्‍हें कम से कम 3 महीने के लिए जेल भी जाना पड़ सकता है।

परिवहन विभाग ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर अमल करते हुए यह फैसला किया है। राजधानी में मई 2012 से नए वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट अनिवार्य की गई थी। पंजीकृत वाहनों के लिए यह जरूरी नहीं था।

परिवहन विभाग के सूत्रों के अनुसार दिल्ली में कुल 1.06 करोड़ पंजीकृत वाहन हैं। इनमें से लगभग 45 लाख वाहन हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट का प्रयोग नहीं करते हैं। ऐसे वाहन मालिकों को नंबर प्लेट बदलने के लिए 13 अक्तूबर तक समय दिया जाएगा। अधिकारियों के अनुसार, समयसीमा समाप्त होने के बाद 500 रुपये के चालान के साथ तीन महीने तक की जेल का प्रावधान है।

ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट

दिल्ली में 45 लाख से अधिक पुराने वाहनों को नंबर प्लेट बदलवानी होगी। दिल्ली में महज 13 केंद्र है। केंद्रों पर भीड़ ना लगे, इसके लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट की व्यवस्था की जा रही है। परिवहन विभाग 2 अक्टूबर से यह सुविधा शुरू कर सकता है।

अगर आप लोगों ने अभी तक अपनी गाड़ी की नंबर प्‍लेट को अभी तक हाई सिक्‍योरिटी नंबर प्‍लेट में तब्‍दील नहीं किया है तो आपको दिल्‍ली की सड़कों पर कार चलाने में दिक्‍कतों का सामना करना पड़ सकता है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
दिल्‍ली में सभी गाड़ियों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्‍लेट अनिवार्य
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags