बाल आश्रम में 6 बच्चियों का यौन शोषण, स्टाफ के तीन कर्मचारी गिरफ्तार

देवभूमि एक बार फिर शर्मसार हुई है। हिमाचल के चंबा जिले में बाल आश्रम में छह बच्चियों के यौन शोषण का मामला सामने आया है। इस घटना से प्रदेश में हड़कंप मच गया है। हाईकोर्ट के न्यायधीश भी चंबा पहुंच गए हैं। पुलिस ने इस मामले में स्टाफ के ही तीन कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक चंबा जिले के चुराह उपमंडल में स्थित चिल्ली बाल आश्रम में छह बच्चियों का यौन शोषण हुआ है। पुलिस हाईकोर्ट के न्यायधीश के समक्ष पीड़ित लड़कियों के बयान दर्ज कर रही है। इसका खुलासा उस वक्‍त हुआ जब बाल सरंक्षण इकाई के समक्ष एक पीड़ित बच्ची ने आपबीती बताई।

इस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आश्रम के तीन कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस मामले में आश्रम के लिपिक, कुक व सफाई कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। पीड़ित बच्चियों को जिला मुख्यालय चंबा स्थित बालिका आश्रम में पहुंचा दिया गया है। चंबा के डीसी सुदेश मोख्टा ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है।
ऐसे हुआ खुलासा

बाल कल्याण समति जिला चंबा की टीम चिल्ली बाल आश्रम में विधिक साक्षरता शिविर में हिस्सा लेने गई थी। इस दौरान आश्रम में रह रही 32 बच्चियों से बात की तो 6 ने केंद्र में तैनात तीन कर्मचारियों के खिलाफ अश्लील हरकतें व छेड़छाड़ करने के आरोप लगाए।

समिति ने आरंभिक जांच को गोपनीय रखा और इसमामले को डीसी के समक्ष रखा। डीसी ने एक बैठक बुलाई व मामले की जानकारी हासिल करने के बाद पुलिस को कार्रवाई करने के आदेश जारी किए।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र ठाकुर ने बताया कि बाल आश्रम चिल्ली में तैनात एक लिपिक, कुक व सफाई कर्मी को छेड़छाड़ के मामले में गिरफ्तार किया गया है। मामले की गहराई के साथ छानबीन की जा रही है।

advt
Back to top button