एसईसीएल मुख्यालय बिलासपुर में हिन्दी पखवाड़ा का समापन

गृह मंत्रालय, राजभाषा विभाग, भारत सरकार से प्राप्त निर्देशानुसार एसईसीएल मुख्यालय में हिंदी पखवाड़ा का आयोजन 14 से 28 सितम्बर 2021 तक किया गया

रायपुर : गृह मंत्रालय, राजभाषा विभाग, भारत सरकार से प्राप्त निर्देशानुसार एसईसीएल मुख्यालय में हिंदी पखवाड़ा का आयोजन 14 से 28 सितम्बर 2021 तक किया गया जिसका समापन दिनांक 28 सितंबर 2021 को एसईसीएल मुख्यालय प्रशासनिक भवन सीएमडी सभागार में अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक ए.पी. पण्डा के मुख्य आतिथ्य, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक तकनीकी (संचालन) एम.के. प्रसाद, निदेशक (वित्त सह कार्मिक) एस.एम. चौधरी, निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) एस.के. पाल के विशिष्ट आतिथ्य, महाप्रबंधक (कार्मिक-प्रशासन)/मुख्य नोडल अधिकारी (राजभाषा) ए.के. सक्सेना, विभिन्न विभागाध्यक्षों, क्षेत्रीय कार्यालय के कर्मियों, एसईसीएल मुख्यालय में कार्यरत अधिकारियों, कर्मचारियों की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि एवं विभागाध्यक्षों द्वारा वीणावादिनी मॉं सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवलित किया गया उपरांत महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए.के. सक्सेना द्वारा स्वागत उद्बोधन प्रस्तुत किया गया।

ए.पी. पण्डा ने कहा 

अपने सम्बोधन में अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक ए.पी. पण्डा ने कहा भारत बहुभाषा-भाषी राष्ट्र है लेकिन हिंदी वह भाषा है जो भारत की एकता का प्रतीक है, यह हम सबको एक-दूसरे से आपस में जोड़ती है। हमें अधिकाधिक हिन्दी में बिना झिझक वार्तालाप व कार्यालयीन कार्य करना चाहिए। उन्होंने हिंदी पखवाड़े के दौरान आयोजित प्रतियोगिताओं के विजयी प्रतिभागियों को बधाई देते हुए भाग लेने वाले अन्य समस्त प्रतिभागियों को भविष्य के लिए अपनी ओर से शुभकामनाएँ दी।

कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथियों के करकमलों से पखवाड़े के दौरान आयोजित प्रतियोगिताओं-हिंदी निबंध प्रतियोगिता (हिंदीतर भाषी एवं हिन्दी भाषी हेतु अलग-अलग), हिंदी पत्र लेखन प्रतियोगिता (हिंदीतर भाषी एवं हिन्दी भाषी हेतु अलग-अलग), हिंदी कविता पाठ प्रतियोगिता, चित्र आधारित हिंदी कहानी लेखन प्रतियोगिता (हिंदीतर भाषी एवं हिंदी भाषी हेतु अलग-अलग), विभागाध्यक्षों हेतु पत्र लेखन प्रतियोगिता, हिंदी व्याकरण प्रतियोगिता ( हिंदीतर भाषी एवं हिन्दी भाषी हेतु अलग-अलग), कम्प्यूटर आधारित हिंदी टंकण प्रतियोगिता, हिंदी अंताक्षरी प्रतियोगिता के विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किया गया ।

इसके साथ ही 01-01-2021 से 30-06-2021 तक के दौरान सबसे अधिक हिन्दी में पत्राचार करने वाले विभागों को स्व. शंकर दयाल सिंह स्मृति पुरस्कार योजना के अंतर्गत पुरस्कृत किया गया जिसमें ’’वर्ग एक-तकनीकी विभाग’’-में प्रथम-’’कोयला नियंत्रण विभाग’’, ’’उत्खनन विभाग’’, ’’गुणवत्ता नियंत्रण विभाग’’ को, द्वितीय-’’तकनीकी सेवाएँ  विभाग’’, ’’तृतीय-उत्पादन विभाग’’ को प्रदान किया गया।

’’वर्ग दो-गैर तकनीकी विभाग’’ में प्रथम-’’लोकसूचना विभाग’’ एवं ’’अधिकारी स्थापना विभाग’’, द्वितीय- ’’निदेशक (कार्मिक) सचिवालय’’ एवं ’’पीएफ-पेंशन विभाग’’ तथा तृतीय- ’’जनसंपर्क विभाग’’ एवं ’’कल्याण विभाग’’ को प्रदान किया गया जबकि क्षेत्रीय कार्यालयों हेतु ’’प्रथम-जोहिला क्षेत्र’’, ’’द्वितीय-जमुना कोतमा क्षेत्र’’ , ’’तृतीय-हसदेव क्षेत्र’’ को प्रदाय किया गया। कार्यक्रम का सफलतापूर्वक संचालन प्रबंधक (सचिवीय/राजभाषा) श्री प्रभात कुमार कुमार ने किया जबकि अंत में उपस्थितों को धन्यवाद ज्ञापित जनसंपर्क अधिकारी सनीषचन्द्र ने दिया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button