कम हो सकती हैं कीमतें पेट्रोल-डीजल पर ,एक्साइज ड्यूटी 2 रुपए घटी

नई दिल्ली: सरकार ने 2 रुपए प्रति लीटर की एक्साइज ड्यूटी (उत्पाद शुल्क) की कटौती की है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इसका असर पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर भी पड़ेगा. इससे पहले दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और रेवाड़ी सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में सीएनजी, पीएनजी के दाम बढ़ गये हैं. इंद्रप्रस्थ गैस लि. (आईजीएल) ने कम्प्रेस्ड नेचुरल गैस (सीएनजी) और पाइप के जरिये घरों में पहुंचनी वाली रसोई गैस (पीएनजी) की कीमत बढ़ा दी है.

कंपनी ने कल  बुधवार रात से दाम बढ़ाने की घोषणा की है.

केंद्र सरकार द्वारा घरेलू क्षेत्र में उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमत में वृद्धि की हाल में जारी अधिसूचना के बाद कंपनी ने बुधवार से दाम बढ़ाने की घोषणा की है.

समीक्षा के बाद दिल्ली में सीएनजी दाम में 95 पैसे प्रति किलो की वृद्धि होगी. वहीं नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में सीएनजी के दाम 1.26 रुपये किलो बढ़ेंगे. गेल (इंडिया) लि. बीपीसीएल और दिल्ली सरकार की संयुक्त उद्यम कंपनी आईजीएल की विज्ञप्ति के अनुसार इस वृद्धि के बाद दिल्ली में जहां सीएनजी का उपभोक्ता मूल्य 39.71 रुपये किलो हो गया है, वहीं नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में यह 49.20 रुपये प्रति किलो होगी. कीमतों में यह वृद्धि सोमवार मध्य रात्रि  से प्रभाव में आ गयी हैं.

इससे पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार (20 सितंबर) को पेट्रोल, डीजल की ऊंचे कीमतों पर कहा था कि सरकार को सार्वजनिक खर्च के लिए राजस्व समर्थन की जरूरत होती है, जिससे वृद्धि के रास्ते में रुकावट न आए. जेटली ने इस बात का कोई संकेत नहीं दिया कि सरकार पेट्रोल और डीजल से उत्पाद शुल्क की दरों में कटौती कर सकती है. वित्त मंत्री ने कहा था कि राज्यों द्वारा ईंधन पर ऊंचा बिक्रीकर और वैट लिया जाता है. हालांकि, उन्होंने इस बात का जिक्र नहीं किया था कि नवंबर 2014 से जनवरी 2016 के दौरान पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 11.77 रुपये प्रति लीटर बढ़ा है, जबकि डीजल पर इसमें 13.47 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है. इससे अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट का लाभ गायब हो गया.

Back to top button