हिन्‍दू परिवारों की रक्षा’ के लिए महिलाओं को ट्रेनिंग देगा विश्‍व हिन्‍दू परिषद

संगठन 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक चलेगा विशेष अभियान

लखनऊ: विश्व हिंदू परिषद जल्द विशेष ही अभियान ‘हिंदू परिवारों की रक्षा’ शुरू करने जा रहा है। इस अभियान के तहत हिंदू महिलाओं और लड़कियों को ट्रेनिंग दी जाएगी।

राजधानी लखनऊ में मौजूद संगठन के महासचिव मिलिंद परांदे ने कहा कि अभियान में उनका विशेष ध्यान 15 साल से बड़ी उम्र की लड़कियों और महिलाओं पर होगा।

उम्मीद की जा रही है कि अभियान इस महीने के बाद शुरू हो जाएगा।

परांदे ने कहा, ‘पिछले साल बजरंग दल की सदस्यता के लिए हमने विशेष अभियान चलाया और 32 लाख युवा हमसे जुड़े।

इस तरह इस बार भी हम उम्मीद कर रहे हैं कि हमारी दो महिला शाखा (दुर्गा वाहिनी और मातृशक्ति) में महिलाएं और लड़की इस अभियान के तहत जुड़ेंगी।’

वीएचपी नेता के मुताबिक जो इसमें शामिल होंगी उन्हें ना केवल आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनने का अधिकार दिया जाएगा,बल्कि वो सामाजिक बुराईयों से हिंदू परिवारों को बचाने में सक्षम होंगी।

वीएचपी महासचिव ने यह भी कहा कि इस अभियान की अहमियत बताने के लिए संगठन 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक एक विशेष अभियान भी शुरू करने वाला है।

इसमें परिवार के मूल्यों के बारे में जागरुकता फैलाई जाएगी। किसी भी लत से मुक्ति, सड़क सुरक्षा, गो रक्षा के अलावा जबरन धर्मांतरण और लव जिहाद के बारे में बताया जाएगा।

इसके अलावा वीएचपी ने राम मंदिर से जुड़े संतों की एक स्पेशल मीटिंग भी बुलाई है। इस मीटिंग में राम मंदिर को लेकर भविष्य के मुद्दों पर बातचीत की जाएगी।

ये मीटिंग दिल्ली में होगी और इसमें राम मंदिर अभियान से जुड़े देशभर के संत शामिल होंगे।

Back to top button