वुमन एम्पावरमैंट के लिए आगे आई हॉकी प्लेयर सेराह समाल

नई दिल्ली : एलबर्ट की हॉकी प्लेयर सेराह समाल इन दिनों वुमन एम्पावरमैंट की मिसाल देकर चर्चा का केंद्र बनी हुई हैं। बेटी एली को दो महीने पहले जन्म देने वाली सेराह ने अपनी टीम के लिए एक महत्वपूर्ण मैच में वापसी की थी।

इस दौरान वह अपनी बेटी एली को भी साथ लाई थी। मैच का जब पहला हाफ निकला तो ग्रैंड प्रेरी टीम रिफ्रैंशमैंट के लिए लॉकर रूम में आ गई। यहां सबसे पहले सेराह ने अपनी बेटी को दूध पिलाया। सेराह को ब्रैस्ट फीडिंग करवाते देख उनकी टीम मेट्स ने भी उनका उत्साह बढ़ाया। टूर्नामैंट दौरान भी सेराह की टीम ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

24 साल की सेराह हॉकी के अलावा स्कूल टीचर भी हैं। हॉकी वह बचपन से खेलती आ रही हैं। सेराह ने वुमन एम्पावरमैंट के लिए अपनी इस पहल पर बात करते हुए कहा कि मुझे नहीं लगता कि ब्रैस्टफीडिंग कभी भी सैक्स सिंबल रहा है। यह प्राकृतिक कार्य है। इसको लेकर किसी भी प्रकार की झिझक नहीं होनी चाहिए।

सेराह ने कहा कि पुरुष और महिला के नजरिये से स्पोट्र्स कभी भी फ्रैंडली नहीं रहा है। जब वह 13 साल की थी तब वह बैंटन ब्वॉयज हॉकी टीम के साथ खेलती थीं।

advt
Back to top button