हॉकी विश्वकप 2018: स्कॉट टपर के गोल से हुआ कनाडा और द.अफ्रीका का मैच ड्रॉ

नंबर-15 दक्षिण अफ्रीका को पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करने के दो अवसर मिले थे

हॉकी विश्वकप के नौवें मैच में कनाडा और दक्षिण अफ्रीका के बीच 1-1 से ड्रॉ हो गया है. यह मैच भी ओडिशा के कलिंगा स्टेडियम में खेला गया है.

इस ड्रॉ मैच के कारण कनाडा और दक्षिण अफ्रीका इस टूर्नामेंट में जीत का खाता खोलने से एक बार फिर चूक गई है. पहले क्वार्टर की समाप्ति के दौरान वर्ल्ड नंबर-15 दक्षिण अफ्रीका को पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करने के दो अवसर मिले थे,

लेकिन इन दोनों ही अवसरों में कनाडा के गोलकीपर डेविड कार्टर ने शानदार प्रदर्शन कर इन कोशिशों पर पानी फेर दिया. दोनों टीमें दूसरे क्वार्टर में भी संघर्ष करती रहीं, लेकिन किसी को भी सफलता हासिल नहीं हुई.

इसके साथ ही दोनों टीमों के बीच पहले हाफ का समापन गोलरहित रहा. कनाडा और दक्षिण अफ्रीका को अपने पहले ग्रुप मैच में हार का सामना करना पड़ा था.

तीसरे क्वार्टर में काफी समय के बाद वर्ल्ड नंबर-11 कनाडा को पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करने का अवसर मिला था लेकिन टीम इसे भुना पाने में नाकाम रही.

इसके अगले ही मिनट में दक्षिण अफ्रीका को पीसी मिली लेकिन गोलकीपर कार्टर ने इसे कनाडा के गोल पोस्ट तक नहीं पहुंचने दिया.

आखिरकार दक्षिण अफ्रीका की किस्मत खुली और नकोबाइल नटुली ने 42वें मिनट में कनाडा के गोलकीपर कार्टर की दीवार को पार करते हुए गेंद गोल पोस्ट तक पहुंचाई और दक्षिण अफ्रीका खाता खोला.

इसके बाद कनाडा का भी इंतजार खत्म हुआ और पेनाल्टी स्ट्रोक के दम पर 45वें मिनट में स्कॉट टपर ने गोल कर स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया.

चौथे क्वार्टर में भी दोनों टीमों के बीच कड़ा संघर्ष देखा गया लेकिन इस संघर्ष के बावजूद टीूमें गोल स्कोर करने में असफल रहीं और इस कारण यह मैच 1-1 से ड्रॉ पर समाप्त हो गया.

ग्रुप-सी के अपने पहले मैच में कनाडा को बेल्जियम से और दक्षिण अफ्रीका को भारत से हार का सामना करना पड़ा था.

दक्षिण अफ्रीका का अगला मैच आठ दिसम्बर को बेल्जियम से और कनाडा का अगला मैच इसी दिन भारत से होगा. ऐसे में दोनों टीमों के पास अब भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने का मौका है.

 

Back to top button