Virginia Woolf’s 136 Birth Anniversary: जानें क्यो गूगल ने डूडल बनाकर इस Feminist Writer को किया याद

Virginia Woolf’s 136 Birth Anniversary गूगल ने डूडल बनाकर मनाई है.

नई दिल्ली: Google Doodle ने Virginia Woolf को 136 Birth Anniversary पर याद किया है, वे एक महान राइटर थीं, और उनकी कहानियों पर खूब फिल्में भी बनीं. Virginia Woolf’s 136 Birth Anniversary गूगल ने डूडल बनाकर मनाई है.

वर्जिनिया जितनी साहित्य के क्षेत्र में फेमस हैं उतनी ही फिल्मी दुनिया में भी क्योंकि उनकी किताबों पर ढेरों फिल्में जो बनी हैं. गूगल ने आज का अपना डूडल इंग्लिश की महान राइटर वर्जिनिया वुल्फ (Virginia Woolf) को समर्पित किया है.

गूगल ने Virginia Woolf’s 136 Birth Anniversary शीर्षक से अपना डूडल बनाया है. वर्जीनिया वुल्फ को बीसवीं सदी के अग्रणी आधुनिकतावादियों में से माना जाता है. वर्जीनिया वुल्फ का असली नाम एडेलीन वर्जिनिया वुल्फ था.

उनका जन्म 25 जनवरी, 1882 को लंदन में हुआ था. उनकी पढ़ाई किंग्स कॉलेज लंदन में हुई और महिलाओं की उच्च् शिक्षा को लेकर आवाज उठाने वाले पहले लोगों में से वे एक थीं.

वे अपने बचपन ने इंग्लिश क्लासिक्स और विक्टोरियन लिटरेचर को पूरी तरह घोंटकर पी गईं. लेकिन वर्जिनिया लेखन की शुरुआत 1900 में की. उनका पहला उपन्यास ‘द वॉयज आउट’ 1915 में प्रकाशित हुआ.

इस उपन्यास को उनके पति लियोनार्ड वुल्फ के प्रकाशन संस्थान हॉगर्थ प्रेस ने छापा था. उनके श्रेष्ठ उपन्यासों में ‘मिसेज डैलोवे (1925)’, ‘टू द लाइटहाउस (1927)’, ‘ऑरलैंडो (1928)’ खास तौर से पहचाने जाते हैं.

उन्होंने एक लंबा निबंध ‘अ रूम ऑफ वन्स ओन’ भी लिखा, जिसमें उनका कहना था कि अगर औरतों का फिक्शन लिखना है तो औरत के पास अपना पैसा और कमरा होना चाहिए.

इन किताबों पर बन चुकी हैं फिल्म

वर्जिनिया वुल्फ की किताब ‘ऑरलैंडो’ पर 1992 में फिल्म बनी थी जिसमें टिंडा स्विल्टन ने काम किया था. फिल्म को सैली पोटर ने डायरेक्ट किया था और आईएमडीबी पर इसे 7.2 की रेटिंग हासिल है. यही नहीं, ‘मिसेज डैलोवे’ पर फिल्म भी बन चुकी है.

1997 में बनी इस फिल्म को काफी पसंद किया गया था और इसे बेहतरीन फिल्म भी बताया गया था. उनकी कई कहानियों को टीवी पर उकेरा गया. उनके लेटर्स पर ‘वीटा और वर्जिनिया’ पर पोस्ट प्रोडक्शन में काम चल रहा है.

1
Back to top button