गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने ध्वजारोहण कर परेड की ली सलामी

दुर्ग।

गणतंत्र दिवस समारोह दुर्ग जिले में पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। प्रदेश के लोक निर्माण, गृह, जेल, धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने दुर्ग के रविशंकर स्टेडियम में आयोजित 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली।

इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघले का दुर्ग जिले के जनता के नाम संदेश का वाचन किया। उन्होंने उल्लास एवं उमंग के प्रतीक रंगीन गुब्बारे आसमान में छोड़े। गणतंत्र दिवस समारोह में परेड द्वारा आकर्षक मार्च पास्ट के साथ ही शालेय छात्र-छात्राओं द्वारा देश भक्तिपूर्ण सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई। विभागीय शासकीय योजनाओं पर आधारित आकर्षक झांकियां निकाली गई।

मुख्य अतिथि लोक निर्माण, गृह, जेल, धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ताम्रध्वज साहू ने ध्वजारोहरण पश्चात परेड का निरीक्षण किया। दुर्ग संभागायुक्त दिलीप वासनीकर, पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डागी, कलेक्टर उमेश कुमार अग्रवाल और पुलिस अधीक्षक प्रखर पाण्डेय भी साथ थे।

मुख्य अतिथि द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जनता के नाम दिये गये संदेश वाचन के पश्चात, समारोह में परेड द्वारा हर्ष फायर किया गया। परेड कमाण्डर उप निरीक्षक निलेश द्विवेदी एवं तृप्ति सिंह राजपूत के नेतृत्व में परेड द्वारा आकर्षक मार्च पास्ट करते हुए मुख्य अतिथि को सलामी दी गई।

परेड में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल, जिला पुलिस बल पुरूष/महिला, नगर सेना (पुरूष एवं महिला), एन.सी.सी. सीनियर (बालक एवं बालिका), एन.सी.सी. जूनियर (बालक/बालिका), स्काउट गाईड महिला एवं रेडक्रास शामिल थे। मुख्य अतिथि ने परेड कमांडर एवं सभी प्लाटून कमाण्डर से परिचय प्राप्त किया। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं अमर शहीदों के परिजनों को शॉल एवं श्रीफल भेंट कर उन्हें सम्मानित किया।

समारोह में शंकराचार्य विद्यालय हुड़को एवं केपीएस सुन्दर नगर भिलाई के 600 से अधिक छात्र-छात्राओं ने व्यायाम की मनमोेहक प्रस्तुति दी। इसी प्रकार मैत्री निकेतन विद्यालय भिलाई, विज्ञान विकास केन्द्र दुर्ग, शासकीय आदर्श कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दुर्ग एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुपेला के छात्र-छात्राओं ने मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी विभिन्न विभागों द्वारा आकर्षक झांकियों का प्रदर्शन किया गया।

इनमें केन्द्रीय जेल, जिला व्यापार एवं उद्योग, सहकारिता, कृषि विभाग, पर्यावरण संरक्षण विभाग, मत्स्य विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, तांदुला जलसंसाधन, जिला पंचायत, वन विभाग, श्रम विभाग, नगर निगम भिलाई, महिला एवं बाल विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं आदिवासी विकास विभाग दुर्ग की झांकी शामिल थी।

मुख्य अतिथि ने गणतंत्र दिवस समारोह में प्रतिकुल मौसम के बावजूद उत्साह पूर्वक सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं व्यायाम प्रदर्शन के लिए सभी विद्यालय को प्रथम स्थान की घोषणा करते हुए पुरस्कृत किया। इसी तरह विभिन्न विभागों की झांकियों में उत्कृष्ठ प्रदर्शन हेतु पुरस्कृत किया गया।

सेवा में विशिष्टि कार्य करने पर विभिन्न विभागों के अधिकारी/कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। परेड के लिए छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल को प्रथम व जिला पुलिस बल को द्वितीय तथा बिना सशस्त्र के लिए स्काउट, एन.सी.सी. एवं रेड क्रास को संयुक्त रूप से प्रथम घोषित करते हुए पुरस्कार दिया गया।

समारोह में स्थानीय जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, जिला एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारी, सभी विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी, विभिन्न स्कूलों के स्कूली छात्र-छात्राएं, शिक्षकगण एवं बड़ी संख्या में नगरवासी उपस्थित थे।

1
Back to top button