राष्ट्रीय

हनीप्रीत ने हवालात में रो-रोकर गुजारी रात, पुलिस ने मांगे 6 सवालों के जवाब

राम रहीम की कथित बेटी हनीप्रीत इंसा ने पूरी रात हवालात में गुजारी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि वह रात भर रोती रही। उसने खाना खाने से भी मना कर दिया। हनीप्रीत को उसकी कार में पकड़ी गई महिला सुखदीप कौर के साथ लॉकअप में रखा गया। हनीप्रीत को हरियाणा पुलिस ने मंगलवार की दोपहर जीरकपुर-पटियाला हाईवे से अरेस्ट किया था।

बता दें कि राम रहीम को 25 अगस्त को रेप केस में सीबीआई कोर्ट ने दोषी करार दिया था। हनीप्रीत हेलिकॉप्टर में बाबा के साथ रोहतक गई, लेकिन उसके बाद से फरार थी। 39 दिन बाद हनीप्रीत पहली बार मंगलवार को मीडिया के सामने आई।

Q. हनीप्रीत को कहां रखा गया?
-अरेस्ट करने के बाद हरियाणा पुलिस हनीप्रीत को पंचकूला के सेक्टर-23 स्थित चंडीमंदिर पुलिस स्टेशन ले गई। पुलिस कमिश्नर एएस चावला, क्राइम अगेंस्ट वूमन आईजी, ममता सिंह, डीसीपी मनबीर सिंह ने करीब साढ़े चार घंटे पूछताछ की।
Q. पुलिस स्टेशन में कैसी गुजरी रात?
– चंडीमंदिर पुलिस स्टेशन में पूछताछ के बाद शाम 7 बजे उसे हवालात में भेजा दिया गया। उसे एक कप चाय दी गई। हनीप्रीत ने चाय पी और कुछ देर चुपचाप बैठी रही। पुलिस ने करीब 7.30 बजे फिर से हनीप्रीत को हवालात से बाहर निकाला। करीब 2 घंटे फिर से पूछताछ की गई। इस दौरान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें हनीप्रीत पुलिस के सवालों के जवाब देती नजर आ रही है।
Q. हनीप्रीत ने खाना खाने से मना कर दिया, रात भर रोती रही?
– हनीप्रीत को करीब 9.30 बजे फिर से हवालात में बंद कर दिया गया। कुछ देर के बाद रात का खाना दिया गया। खाने में दाल और रोटी थी। हनीप्रीत ने खाना खाने से मना कर दिया। हनीप्रीत रात भर रोती रही। हनीप्रीत को उसके साथ कार में पकड़ी गई महिला सुखदीप कौर के साथ रखा गया। सुखदीप बठिंडा की रहने वाली है। उसका पूरा परिवार डेरे का पुराना अनुयायी है।
– रात में 12.30 बजे हनीप्रीत ने तबीयत खराब होने की शिकायत की, जिसके बाद उसे हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां जांच के बाद मेडिकल चेकअप करवाया गया।
Q. हनीप्रीत से कौन से सवाल पूछे गए?
-क्या पुलिस रेड की जानकारी मिलती थी? हां, तो किसके जरिए? अगर नहीं, तो बाड़मेर, श्रीगंगानगर, रामसर मोडिया, उदयपुर, यूपी, दिल्ली, गुरुग्राम से रेड से ठीक पहले कैसे निकल गई?
-पंचकूला में दंगा करवाने के लिए कितने रुपए भेजे गए? अहम रोल किनका था?
-दंगा करवाने में गुरमीत का क्या रोल है?
– डेरे की 45 मेंबरी कमेटी में शामिल लोगों का क्या रोल था?
-पवन, आदित्य इंसा से आखिरी बार कब बात हुई, वो दोनो कहां हैं?
-रोहतक की सुनारिया जेल से निकलने के बाद पुलिस के सामने क्यों नहीं आई?
Q. हनीप्रीत ने पुलिस को क्या बताया?
-हनीप्रीत के पास इंटरनेशनल नंबर थे, जिन्हें उसने इस्तेमाल किया और उनसे ही वॉट्सएप कॉल किए।
– हनीप्रीत 25 अगस्त से ही आदित्य, पवन, रोहताश के संपर्क में थी। इन सभी से उसकी वॉट्सऐप पर बात होती थी। हनीप्रीत ने कहीं भी सिंपल कॉलिंग का इस्तेमाल नहीं किया।
Q. इंटरव्यू में कहा था- डिप्रेशन में चली गई थी
– हनीप्रीत फरार होने के बाद पहली बार मंगलवार को सामने आई थी। उसने चैनलों को इंटरव्यू दिया था। हनीप्रीत ने कहा, “मैं डिप्रेशन में चली गई थी। जो लड़की अपने बाप के साथ देशभक्ति की बात करती थी, वो जेल में चले गए। फिर उस लड़की पर देशद्रोह का आरोप लगाया गया। मुझे कानून की प्रक्रिया का पता ही नहीं था। पापा के जाने के बाद मैं तो बेसहारा हो गई। मुझे लोगों ने जैसा गाइड किया, मैंने वैसे ही किया। मैं हरियाणा-पंजाब हाईकोर्ट जाऊंगी, पीछे नहीं हटी। लेकिन मेंटल स्थिति संभलने में थोड़ा टाइम लगता है।”
– साजिश रचने के आरोप पर हनीप्रीत ने कहा, “एक लड़की इतनी फोर्स के बीच अकेले बिना परमिशन के कैसे जा सकती है? इसके बाद कहा गया कि मैं गलत आई हूं। सारे सबूत दुनिया के सामने हैं। ऐसे में मैं कहां दंगे में शामिल थी, मेरे खिलाफ किसी के पास क्या सबूत है? मैंने बेटी का फर्ज अदा किया। मैंने कहां बोला है? मैं कहां किस दंगे में शामिल रही हूं? मैं तो खुशी-खुशी कोर्ट गई, ताकि शाम तक वापस आ जाएंगे। लेकिन फैसला खिलाफ आ गया, हमारा तो दिमाग ही काम करना बंद कर दिया। ऐसे में हम क्या किसी के खिलाफ साजिश रच पाते।”
– राम रहीम के रिश्तों पर हनीप्रीत ने कहा, “मुझे समझ में नहीं आता है कि बाप-बेटी के पवित्र रिश्ते को उछाला जा रहा है। मेरे डर का कारण ही यही था कि हनीप्रीत को क्या प्रेजेंट किया? एक बाप-बेटी के रिश्ते को ऐसे तार-तार कर दिया। क्या एक बाप अपनी बेटी के सिर के उपर हाथ नहीं रख सकता है? क्या एक बेटी अपने बाप से प्यार नहीं कर सकती है?”
Q.कौन है हनीप्रीत?
– हनीप्रीत के पिता रामानंद तनेजा और मां आशा तनेजा फतेहाबाद के रहने वाले हैं। हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। हनीप्रीत के पिता राम रहीम के अनुयायी थे। वे अपनी सारी प्रॉपर्टी बेचने के बाद डेरा सच्चा सौदा में अपनी दुकान चलाने लगे। 14 फरवरी 1999 को हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की सत्संग में शादी हुई। इसके बाद बाबा ने हनीप्रीत को अपनी तीसरी बेटी घोषित कर दिया। हनीप्रीत राम रहीम के प्रोडक्शन में बनी फिल्मों में एक्टिंग और डायरेक्शन भी कर चुकी है। बताया जाता है कि हनीप्रीत साए की तरह बाबा के साथ रहती थी।
– हनीप्रीत के पूर्व पति का आरोप है कि हनीप्रीत और राम रहीम के बीच नाजायज रिश्ते थे। उसने दोनों को एक बार आपत्तिजनक हालत में देखा था। जब राम रहीम को रेप केस में दोषी करार दिया गया तो हरियाणा में जमकर हिंसा भड़की। हनीप्रीत पर इस हिंसा की साजिश में शामिल होने का आरोप है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
हनीप्रीत
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.